सुबह में परिजनों ने जिसका किया अंतिम संस्कार, शाम को आ गया घर, फिर जानिए क्या हुआ

सुबह में परिजनों ने जिसका किया अंतिम संस्कार, शाम को आ गया घर, फिर जानिए क्या हुआ

N4N DESK : मध्य प्रदेश के श्योपुर में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. जहाँ परिवार के लोगों ने अपने एक परिजन का अंतिम संस्कार कर दिया. लेकिन बाद में वह जिन्दा होकर वापस लौट आया. उसे जिन्दा देखकर उसके परिजनों और पुलिसवालों के होश उड़ गए. पूरा मुहल्ला उसे देखकर हैरान हो गया. दरअसल, यह मामला बड़ौदा के माताजी मौहल्लेका है. जहाँ गुरुवार की शाम 7 बजे शहर के पुल दरवाजा श्मशान घाट के पास एक अज्ञात व्यक्ति का शव पुलिस को मिला था. 

पुलिस ने मृतक की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी ताकि उसकी शिनाख्त हो सके. वायरल तस्वीर को देखकर शुक्रवार की सुबह बड़ौदा के बंटी शर्मा ने मृतक को 4-5 दिन से गायब अपना भाई दिलीप शुक्ला बताया. बंटी शर्मा ने बताया कि दिलीप मानसिक रूप से कमजोर है. बाद में बंटी शर्मा ने शव के पोस्टमॉर्टम के बाद बॉडी को अपने कब्जे में ले लिया. पुलिस ने भी पंचनामा सहित अन्य कागजी कार्रवाई पूरी कर ली. दिलीप शुक्ला को मृत समझकर उसके परिजनों ने शुक्रवार सुबह को उसका विधिवत अंतिम संस्कार कर दिया. लेकिन रात 8 बजे दिलीप घर लौट आया जिसे देखकर न सिर्फ आस पड़ोस के बल्कि परिवार के लोग भी चौंक गए.


अंत्येष्टि के बाद अपने भाई को जिंदा देखकर घर में पसरा मातम खुशी में बदल गया. लेकिन अज्ञात शख्स की शिनाख्त कर उसका अंतिम संस्कार कर परिवार के सभी सदस्य अब पुलिस कार्रवाई के डर से कैमरे के सामने आने में कतरा रहे हैं. दिलीप के परिजनों का कहना है कि फोटो और हुलिया के आधार पर शिनाख्त करने में गलती हो गई है. वहीं, पुलिस अपनी कार्रवाई को जायज बता रही है. साथ ही अज्ञात शव की तस्वीर के सहारे उसकी नए सिरे से पहचान करने की जुगत में लग गई.

Find Us on Facebook

Trending News