मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का विजन शुरू से ही राज्यहित में रहा है : डॉ. मधुरेंदु पांडेय

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का विजन शुरू से ही राज्यहित में रहा है : डॉ. मधुरेंदु पांडेय

PATNA : जदयू नेता डॉ. मधुरेंदु पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का विजन शुरू से ही राज्यहित में रहा है। मुख्यमंत्री अपने कार्यकाल में बिहार को तरक्की की ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए राज्य में सर्वांगीण विकास किया। जिसमें कई नए-नए कार्यक्रम और योजनाओं के जरिए बिहार आज देश की विकासोन्मुख राज्यों की श्रेणी में गिना जा रहा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को देश का सर्वोच्च राजनीतिज्ञ करार देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी राजनीतिक कुशलता से बिहार जैसे अति पिछड़े राज्यों में न्याय के साथ विकास कर और सामाजिक सुधार के जरिए जनता की उन तमाम मूलभूत सुविधाओं को पूरा करने का काम किया है जिसकी जरूरत बिहार को थी। 

डॉ. पांडेय ने कहा कि बिहार की दशा और दिशा बदलने में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कई कठोर निर्णय लेकर उसकी सफलता के लिए दिन रात कार्य कर बिहार को एक राज्य मॉडल के रूप में पहचान देने की काम की है। राज्य की आधी आबादी महिलाओं को मजबूती प्रदान करने के लिए उनके पक्ष में कई ऐसे अनगिनत कार्यों का अमलीजामा पहनाया।  जिस कारण बिहार में महिला सशक्तिकरण काफी मजबूत हुआ। पंचायत स्तर से लेकर राज्य स्तर तक महिलाओं के उत्थान के लिए सीएम नीतीश कुमार ने अपने तरफ से कोई कोर कसर बाकी नहीं रखा है। 

पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वंचितों और अति पिछड़ों के विकास के कई कार्य किए और देश के विकास के मुख्य धारा से जोड़ने के लिए उनके पक्ष में आज भी क्रियाशील हैं। उन्होंने कहा कि वे राजनीति और सामाजिक के साथ-साथ सभी क्षेत्रों में उनकी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए हमेशा प्रयासरत रहे हैं। मुख्यमंत्री के 15 वर्षों के कार्यकाल में शराबबंदी, बाल विवाह उन्मूलन, दहेज प्रथा पर रोक, 7 निश्चय पार्ट वन एवं पार्ट 2, जल जीवन हरियाली, महिलाओं के लिए आरक्षण की व्यवस्था ये सब उनके उल्लेखनीय कार्यों में शामिल है। जिसका अनुसरण आज पूरा देश कर रहा है। बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश कुमार का कार्यकाल स्वर्णाक्षरों में लिखा जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News