बर्थडे स्पेशल: अप्सरा सी खूबसूरत दिखने वाली मुमताज की कहानी

बर्थडे स्पेशल: अप्सरा सी खूबसूरत दिखने वाली मुमताज की कहानी

अपने सदी की खूबसूरत अभिनेत्री मुमताज की अदाकारी को हम आज भी याद करते है. मुमताज का जन्म 31 जुलाई, 1947 को मध्यमवर्गीय मुस्लिम परिवार में हुआ. महज 12 वर्ष की उम्र में उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा. मुमताज की खूबसूरती किसी अपसरा से कम नहीं थी, कई बॉलीवुड कलाकार उनकी खूबसूरती के दीवाने थे. इनमें से एक नाम था शम्मी कपूर 

अपनी छोटी बहन के साथ मुमताज स्टूडियो दर स्टूडियो घूमती थी और छोटा-मोटा काम तलाशती। मुमताज की मां नाज और चाची नीलोफर पहले से फिल्मों में मौजूद थीं. लेकिन दोनों जूनियर आर्टिस्ट होने के नाते अपनी बेटियों की सिफारिश करने योग्य नहीं थीं. मुमताज ने स्टार बनने का सपना अपने मन में बसा रखा था. सत्तर के दशक में उन्होंने स्टार की हैसियत प्राप्त कर ली. 

मुमताज ने 1960 में अपना करियर फिल्म 'गहरा दाग' से साइड रोल के तौर पर शुरू किया था. धीरे-धीरे मुमताज काे लीड रोल भी मिलना शुरू हुए । मुमताज ने एक के बाद एक 16 एक्शन फिल्मों में काम किया। मुमताज की अधिकतर मूवी दारा सिंह के साथ की है. 1970 में फिल्म 'खिलौना' के लिए मुमताज को फिल्मफेयर बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड भी मिला था । राजेश खन्ना के साथ मुमताज ने लगातार 10 हिट फिल्में दी थीं । 1977 में फिल्म 'आईना' के बाद मुमताज ने मयूर माधवानी से शादी कर ली थी और इनदिनों अपने हस्बैंड के साथ रोम में हैं 

एक दिन खबर आई कि मुमताज को कैंसर है । कैंसर के बारे में जान मुमताज डर गईं थीं, लेकिन उससे लड़ना भी जरूरी था। मुमताज को ब्रेस्ट कैंसर था जिसके बारे में उन्हें काफी देर से पता चला। लेकिन जल्द ही इलाज शुरू कर दिया गया। कीमोथेरेपी की वजह से मुमताज की हालत और भी खराब हो गई थी. उनके सारे बाल झड़ गए थे और उन्हें विग का इस्तेमाल करना पड़ा था. 

एक इंटरव्यू में मुमताज ने खुद बताया कि, 'बाल झड़ने की वजह से मैं गंजी हो गई थी। मेरे पति मेरे लिए विग लेकर आते थे जिन्हें मैं पहनने के लिए मजबूर थी। लेकिन मैं उसे पहनना अवॉइड करती थी और स्कार्फ पहनती थी।' कैंसर में मुमताज ने जो भी दवाइयां खाईं और जो इलाज हुआ उससे उनका वजन बहुत ज्यादा बढ़ गया जिसकी वजह से उन्हें पहचानना तक मुश्किल होने लगा


Find Us on Facebook

Trending News