बदहाल अवस्था में मुरिया उप स्वास्थ्य केंद्र, कहने के लिए है हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, पर डॉक्टर भी नजर नहीं आते हैं

बदहाल अवस्था में मुरिया उप स्वास्थ्य केंद्र, कहने के लिए है हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, पर डॉक्टर भी नजर नहीं आते हैं

दरभंगा. जिला के सदर प्रखंड मुरिया हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में मरीजों को किसी तरह की स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध नहीं हैं. कहने के लिए हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर हैं, लेकिन बगल के पड़ोसी द्वारा अपना घर समझ कर भवन को अतिक्रमण कर लिया गया हैं. वहीं लोगों का कहना है कि उप स्वास्थ्य केंद्र की हालत नाजुक अवस्था में पहुंच चुकी है. यह सिर्फ कागज पर ही वर्षों से चल रही है, उन लोगों का कहना है कि यहां न डॉक्टर न ऐएनएम और न ही एक भी स्वास्थ्य कर्मी नजर नहीं आते हैं, जबकि प्रत्येक माह लाखों रुपए वेतन के नाम पर सरकारी खजाना से खाली हो रहा है. यह लोग कहां बैठते हैं इसकी जानकारी लोगों को आज तक नहीं है.

स्थानीयों का कहना है कि पूर्व में उप स्वास्थ्य केंद्र पर आसपास एवं 10 किलोमीटर रेंज के चारों तरफ के मरीज यहां अपना इलाज कराने पहुंचते थे, लेकिन स्वास्थ्य महकमा की अनदेखी के कारण आज उप स्वास्थ्य केंद्र खुद अपने इलाज के लिए तरसते नजर आ रहा हैं. इसको लेकर स्थानीय लोगों में स्वास्थ्य विभाग के प्रति गुस्से का माहौल है. इतना ही नहीं कोरोना काल में भी उप स्वास्थ्य केंद्र को चालू नहीं कराया गया, जबकि भवन का रंग रोगन एवं  हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर का हस्त लेखन कर स्वास्थ्य विभाग अपना वाहवाही लेकर पल्ला झाड़ लिया है.

यहां दो भवन स्थित है, जिसमें एक ध्वस्त हो चुका है. दूसरे भवन में चार कमरा है. वहीं वर्षों से बंद रहने के कारण चारों ओर घना जंगल ही जंगल नजर आता है. लोगों को भी आनेजाने में सांप-कीड़ा का डर हमेशा लगा रहता है. लोगों का कहना है कि उप स्वास्थ्य केंद्र चालू करने के लिए स्थानीय विधायक एवं कई बड़े जनप्रतिनिधि एवं अधिकारियों से बार बार इसकी शिकायत की गई थी, लेकिन आज तक इसका परिणाम सामने नहीं आया है. उन लोगों का यह भी कहना है कि यदि उप स्वास्थ्य केंद्र चालू अवस्था में रहता तो बीमार लोगों को बाहर कहीं दूसरे जगह इलाज कराने नहीं जाना पड़ता है. वहीं उन्होंने आगे मांग करते हुए कहा कि उक्त हेल्थ सेंटर का कायाकल्प करने, मरीजों का इलाज उसके दवा दारू व एक एंबुलेंस की सुविधा बहाल कराने की विभागीय मंत्री एवं स्वास्थ्य विभाग के उच्च पदाधिकारी से गुहार लगाई  है.


Find Us on Facebook

Trending News