सीएम के मणि ने किया ऐलान, 29 फरवरी के बाद एक-एक वोट के लिए तरस जाएंगे नीतीश कुमार

सीएम के मणि ने किया ऐलान, 29 फरवरी के बाद एक-एक वोट के लिए तरस जाएंगे नीतीश कुमार

PATNA: जेडीयू नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री नागमणि का धैर्य अब जवाब देने लगा है। लोकसभा चुनाव से पहले पोलिटिकल एडजस्टमेंट की चाहत में उपेन्द्र कुशवाहा की पार्टी का साथ छोड़कर जेडीयू में शामिल हुए नागमणि ने एक बार फिर सीएम नीतीश पर हमला बोला है। नागमणि ने कहा कि कुछ नेताओं को काफी गलत फहमी हो गई है कि नीतीश कुमार का एक वोट बैंक अछा है। नीतीश कुमार का आधार वोट  कोईरी ही है। जब हमने नीतीश कुमार के खिलाफ बिगुल बजा दिया, फिर मात्र 1/2% कुर्मी वोट नीतीश कुमार के पास रह जाता है।

नागमणि ने कहा कि नीतीश कुमार सत्ता में हैं इसलिए जनाधार ज्यादा कुछ नेताओं को लगता है। 1977,80 मे नीतीश जी का जनाधार कहा गया था जब जनता पार्टी के हवा में भी जीत नहीं पाए थे। 29 फ़रवरी को कोईरी महा रैली के बाद एक बेवकूफ़ व्यक्ति भी जान जाएगा कि  नीतीश कुमार एक एक वोट के लिए तरस जाएंगे। उन्होंने कहा कि 30 सितंबर को पटना के बिहार राज्य पंचायती राज परिषद हॉल में पूरे बिहार के सभी विधान सभा के प्रत्येक गाव के लोंगो को आमंत्रित किया गया है ताकि स्वागत समिति का गठन किया जा सके।

उन्होंने कहा कि रैली का मकसद नीतीश कुमार को हटाना और कोईरी समाज से मुख्यमंत्री बनना है। अभी नहीं तो कभी नहीं का संकल्प लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि 10% कोईरी वोट बिहार की सब गणित को बदलने की हैसियत रखता है। एनडीए की तरफ जाएगा तो उसकी जीत होगी यूपीए के साथ गया तो उसकी जीत तय हो जाएगी।


Find Us on Facebook

Trending News