NATIONAL NEWS: 5 दिनों के बाद सोनू सूद ने चुप्पी तोड़ी, आईटी विभाग की तरफ से लगे आरोपों को बताया गलत, यह रहा पोस्ट...

NATIONAL NEWS: 5 दिनों के बाद सोनू सूद ने चुप्पी तोड़ी, आईटी विभाग की तरफ से लगे आरोपों को बताया गलत, यह रहा पोस्ट...

N4N DESK: लॉकडाउन के दौरान गरीबों के मसीहा बने सोनू सूद के घर पर 15 सितंबर को आयकर विभाग ने सर्वे किया था। मुंबई में सोनू सूद से जुड़े 6 जगहों पर इनकम टैक्स ने सर्वे किया था। आपको बता दें कि यह सर्वे दिल्ली सरकार द्वारा सोनू सूद को मेंटरशिप प्रोग्राम का ब्रांड एंबेसडर बनाए जाने के बाद शुरू हुआ था। गौरतलब है कि लॉकडाउन के दौरान सोनू सूद ने लाखों लोगों को उनके घर तक पहुंचाने में मदद कर चुके हैं। जिसके कारण उन्हें लाखों लोगों द्वारा लोगों का मसीहा कहा जाने लगा है।

5 दिन बाद तोड़ी सोनू ने तोड़ी चुप्पी

5 दिनों से इनकम टैक्स के द्वारा लगाए गए सभी आरोपों के बाद आखिरकार सोनू सूद ने चुप्पी तोड़ ट्विटर के ज़रिए अपने भावनाओं को स्पष्ट किया है। उनेहोंने अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘उनके फांउडेशन में जमा हर एक रूपया जरुरतमंद लोगों के लिए है’। उन्होंने आगे लिखते हुए कहा है कि ‘बीते 4 दिनों से वह कुछ गेस्ट को अटेंड करने में व्यस्त थे और इसी वजह से वह लोगों की मदद के लिए नहीं आ पाए। मगर अब वह वापस से जनता की सेवा में हाज़िर हैं’। उन्होंने अपने ट्वीट के शुरूआत में लिखा है कि ‘आपको हमेशा अपने साइड की स्टोरी सुनाने की जरूरत नहीं, समय बताएगा’। और अंतिम में उन्होंने लिखा है कि ‘कर भला, हो भला... अंत भले का भला। जय हिंद’। इस पोस्ट के बाद सोनू सूद के फैंस के दिल में उम्मीद की एक और लौ जली है।

20 करोड़ टैक्स की चोरी का आरोप

15 सितंबर को इनकम टैक्स के सर्वे के बाद से ही सोनू सूद की मुश्किलें लगातार बढ़ती चली जा रही थी। अभिनेता सोनू सूद और उनसे जुड़े परिसरों पर दो दिनों की छापेमारी के बाद इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने शनिवार को कहा था कि सोनू सूद के खिलाफ 20 करोड़ रुपये से ज्यादा की टैक्स चोरी का मामला सामने आया है। यही नहीं, आयकर विभाग ने यह भी कहा था कि विदेशी अंशदान विनियमन अधिनियम (एफसीआरए) के उल्लंघन के अलावा,   सोनू सूद और उनके सहयोगियों ने 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी भी की थी, इसका खुलासा हुआ था। बता दें कि आयकर विभाग ने अभिनेता सोनू सूद के खिलाफ कथित कर चोरी मामले में शुक्रवार को मुंबई, नागपुर और जयपुर में उनके कई परिसरों पर छापेमारी की थी।  


आईटी वीभाग के नियम का भी किया था उल्लंघन

आईटी विभाग ने भी अभिनेता सोनू सूद चैरिटी फाउंडेशन में विदेशी धन के लेन देन में कानून का उल्लंघन पाया है। सीबीडीटी ने बयान जारी किया था जिसके अंदर कही था कि फाउंडेशन ने 1 अप्रैल, 2021 से अब तक 18.94 करोड़ रुपये का चंदा इकट्ठा किया है, जिसमें से उन्होंने विभिन्न राहत कार्यों के लिए करीब 1.9 करोड़ रुपये खर्च किए हैं, जबकि शेष 17 करोड़ रुपये बैंक में फाउंडेशन के बैंक अकाउंट में बगैर इस्तेमाल के पाए गए हैं। सीबीडीटी ने अपने बयान में कहा कि ऐसा देखा गया है कि चैरिटी फाउंडेशन ने क्राउड फंडिंग प्लेटफॉर्म पर (विदेशी योगदान विनियमन अधिनियम) एफसीआरए नियमों का उल्लंघन करते हुए विदेशी दानदाताओं से 2.1 करोड़ रुपये की राशि भी जुटाई है। सूत्रों के मुताबिक दावा किया गयी था कि छापेमारी में बोगस लोन और बोगस बिलिंग से जुड़े कई दस्तावेज भी छापेमारी के दौरान पाए गए हैं।

Find Us on Facebook

Trending News