NATIONAL NEWS: मुंबई को दहलाने की हो रही साजिश, निशाने पर लोकल ट्रेन औऱ स्टेशन, हाई अलर्ट पर खुफिया एंजेसी

NATIONAL NEWS: मुंबई को दहलाने की हो रही साजिश, निशाने पर लोकल ट्रेन औऱ स्टेशन, हाई अलर्ट पर खुफिया एंजेसी

MUMBAI: देश की ख़ुफ़िया एजेंसियों ने मुंबई में आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया है. जीआरपी को ख़ुफ़िया एजेंसीयों के द्वारा आगाह किया गया है. ख़ुफ़िया एजेंसियों ने जानकारी दी है की आतंकी ट्रेन में गैस अटैक या फिर प्लेटफार्म पे होने वाली भीड़ को गाड़ी से रौंद सकते हैं.

ख़ुफ़िया एजेंसियों से मिली अलर्ट के बाद से जीआरपी ने मुंबई के सभी बड़े रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ा दी है. हर आने जाने वालों की कड़ी जांच की जा रही है और एंट्री तथा एग्ज़िट के कुछ रास्ते भी बंद कर दिए हैं. एक वरिष्ठ अधिकारी से मिली जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा की हमें समय-समय पर इस तरह के अलर्ट मिलते रहते हैं. ख़ासकर लोकल ट्रेन के लिए और हम हर एक अलर्ट को बहुत ही गंभीरता से लेते हैं और यात्रियों की सुरक्षा के लिए हम हर तरह के कदम भी उठाते हैं. विभिन्न राज्यों से गिरफ्तार आतंकियों से पूछताछ में दिल्ली स्पेशल सेल को मिली जानकारी के अलावा जीआरपी को विभिन्न एजेंसियों से कई अलर्ट मिले हैं. आतंकी हमले के खतरे को देखते हुए जीआरपी ने लाइव मोकड्रिल करना शुरू कर दिया है और इसमें अधिकारीयों को यह सिखाया जाता है की आतंकी हमले के दौरान यात्रियों को कैसे बचाएं और आतंकियों को किस तरह से पकड़ना है. 

जीआरपी ने अतिरिक्त पुलिस बल को बड़े रेलवे स्टेशन पर तैनात किया है और जीआरपी नेशनल सिक्योरिटी गार्ड समेत दूसरी एजेंसियों के भी सम्पर्क में है. बता दें की जीआरपी कमिश्नर कैसर ख़ालिद ने आदेश दिया है कि रेलवे स्टेशन पर हर समय पुलिस की मौजूद रहनी चाहिए. इसके अलावा समय समय पर लार बोम और डॉग स्कोड की भी पेट्रोलिंग होते रहनी चाहिए, ताकि किसी भी आपातकालीन स्थिति से आसानी से निपटा जा सके. मिल रही जानकारी के अनुसार बता दें की जीआरपी ने हर उस जगह बैरिकेड्स और स्पीड ब्रेकर लगाए हैं, जहां से कार या दोपहिया वाहन प्लेटफ़ोर्म पर जा सकती है. इस तरह की आशंका भी जताई जा रही है की आतंकी प्लेटफार्म पर गाड़ी चढ़ा सकते हैं और वहां मौजूद भीड़ को रौंद कर ज्यादा से ज्यादा लोगों को मौत के घाट उतार सकते हैं. 

जीआरपी के अधिकारी से मिली जानकारी के अनुसार सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सेंट्रल रेलवे और वेस्टर्न रेलवे ने करीब सात हजार कैमरे लगाए. बता दें की इन सब के अलावा जीआरपी उन तमाम जगह की जांच कर रहा है, जो रेलवे से नज़दीक है या प्लेटफ़ोर्म पर है और जहां पर गैस सिलिंडर का इस्तेमाल किया जाता है. ताकि आतंकी गैस लीक या सिलिंडर ब्लास्ट जैसे आतंकी हमले को अंजाम ना दे पाए. मिल रही जानकारी के मुताबिक़ रेलवे पुलिस अब पार्सल बुकिंग पर भी ध्यान दे रही है और लगातार जांच कर रही है.

Find Us on Facebook

Trending News