नवादा के पकीरबरावां में बोलीं स्मृति ईरानी, विरोधियों के झांसे में न आएं, वह सिर्फ अपनी तिजरो भरने को लेकर भ्रम पैदा कर रहे हैं

नवादा के पकीरबरावां में बोलीं स्मृति ईरानी, विरोधियों के झांसे में न आएं, वह सिर्फ अपनी तिजरो भरने को लेकर भ्रम पैदा कर रहे हैं

नवादा... वारिसलीगंज विधानसभा के पकरीबरावां में केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने विपक्ष पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि देश की आजादी के बाद भाजपा व नरेंद्र मोदी की सरकार ने राष्ट्र निर्माण व सभी वर्गों के सम्मान देने तथा साथ लेकर चलने की योजना पर कार्य कर रही है। पिछली सरकारें राष्ट्र विरोधी ताकतों को बल देने वाला कार्य करती रही हैं। वह सोमवार को पकरीबरावां के धेवधा कॉलेज के मैदान में भाजपा प्रत्याशी अरुणा देवी के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित कर रही थीं। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि विरोधियों के झांसे में नहीं आएं। वह सभी अपने घर में तिजोरी भरने के लिए आप सभी को भ्रम में डालकर अपना उल्लू सीधा कर रहे हैं। ईरानी ने कहा कि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार सभी वर्ग का उत्थान चाहती है। महिलाओं, युवाओं, गरीबों और हर तबके के लोगों के विकास का काम भाजपा की सरकार में हो रहा है। उन्होंने कहा कि बिहार का स्वाभिमानी नागरिक कभी भगवान से ये नहीं कहता है कि भगवान मुझे ऐसा मौका दे कि मैं भी चारे घोटाले में पैसा कमा लूं। वो जब लक्ष्मी का आशीर्वाद मांगता है तो सिर्फ इतना कहता है कि मां बस बाजुओं में इतना दम दे कि अपने परिवार का भरण-पोषण इज्जत से कर सकूं। 

बिहार का नागरिक जब लक्ष्मी के सामने शीश झुकाता है तो पाता है कि लक्ष्मी जब घर आती है तो लालटेन संग नहीं लाती, अरे लक्ष्मी आती हैं तो कमल पर बैठकर आती हंै, इसलिए लक्ष्मी को घर लाना है तो कमल का बटन दबाना है। उन्होंने कहा बिहार को एनडीए सरकार ने जंगलराज से मुक्ति दिलाया है। पहले बिहार में जंगलराज था। एनडीए की सरकार में बिहार में एलईडी का जमाना आ गया है। 

अपने संबोधन में उन्होंने राजद के कार्यकाल में बिहार की बदहाल दशा के लिए राजद पर निशाना साधा तो एनडीए की सरकार की उपलब्धियों को गिनाया। उन्होंने कहा कि गरीब मां-बाप अपने बेटे से कहते थे, कि शादी में ज्यादा कुछ नहीं दिखाना वरना अपराधी तत्व के लोग मौत के घाट उतार देंगे। 

बिहार वह मंजर देखा कि गाड़ियों के शोरूम से ही गाड़ियो को लूट लिया जाता था, क्योंकि प्रदेश में एक ऐसी सरकार चल रही थी जिन लोगों ने शासन की तौर तरीके लूट को एक शासकीय मध्य बना दिया था। 

बिहार ने वह मंजर देखा जब स्कूल में अध्यापक नहीं हुआ करते थे चारा बांधा जाता था। बिहार को जब गरीब के थाली से रोटी की छीन लिया जाता था और नेता चारा घोटाला में पैसा खा जाते थे जब लालटेन की सरकार थी तब बिजली की क्या हालत थी वह भी किसी से छुपी नहीं है।

बिहार में मात्र 5 प्रतिशत बिजली थी।

उन्होंने अपने घरों में उजाला किया और आपके घरों को अंधेरा किया, क्योंकि वह बिहार और देश की तिजोरी को लूट सके और आप अंधेरों से झूमते रहे। हमारे देश के सिपाही किसी राजा महाराजा के बेटे नहीं फिर भी अपने देश की सेवा में तत्पर रहते हैं और दुश्मन से देश को सुरक्षित रखते हैं, लेकिन कांग्रेस के एक नेता ने प्रमाण मांगता है। वहीं पाकिस्तान के साथ-साथ चीन ने आंख उठाई तो लद्दाख में जाकर नरेंद्र मोदी खड़ा हुए, लालटेन नही। करोना महामारी देशभर में प्रभाव लाया।

एक करोड़ खाना का पैकेट लोगों में बांटे गए

वहीं संजय जायसवाल के नेतृत्व में एक करोड़ खाने की पैकेट बिहार के गरीब जनता को दिया। करोना से पूरे विश्व जूझ रहा है लेकिन एक देश है भारत जिसका 80 करोड़ हिंदुस्तानियों को छठ पूजा तक मुफ्त राशन मिल रहा है जिसकी व्यवस्था नरेंद्र मोदी ने किया। उन्होंने कहा कि सड़क मात्र 33 प्रतिशत बनी थी पर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 96 प्रतिशत सड़क बनी है। 6 साल में एनडीए सरकार में पूरे बिहार में 28 लाख घर बनबाने का काम किया और 2022 तक 30 लाख घर बनाए जाएंगे। जदयू और विजेपी के सरकार ने 15 साल के कार्यकाल में 6 लाख नौकरी ने सुनिश्चित किया और लालटेन ने 90 हजार नौकरी दिया। वहीं महिलाओं रात में खुले में शौच के लिए जाती थी तो किस प्रकार की अभद्र व्यवहार का सामना करना पड़ता था वह समाज भी भलीभांति जानती है। इसलिए 5 साल में नरेंद्र मोदी 11 करोड़ माता बहनों की घरों में शौचालय बनवाया।


Find Us on Facebook

Trending News