पिस्टल और पोस्टर के साथ सीसीटीवी में कैद हुआ नक्सली, पुलिस ने बताया असामाजिक तत्व

GAYA : नक्सली संगठन भाकपा माओवादी ने 48 घंटे बंद का आह्वान किया था. जिसका असर आज गया के नक्सल प्रभावित इलाकों में देखने को मिल रहा है. नक्सलियों का आतंक इतना है कि कई इलाकों में सुबह से ही यातायात ठप है और दुकाने बंद है. 

इसी बीच इमामगंज एसडीपीओ सुशील कुमार ने एक व्यक्ति का सीसीटीवी फुटेज जारी किया है. फुटेज में वह व्यक्ति एक हाथ में हथियार और दूसरे हाथ में पोस्टर लिए दिखाई दे रहा है. हालाँकि पुलिस उसे नक्सली मानने से इंकार कर रही है और असामाजिक तत्व बता रही है. सीसीटीवी में नक्सली के कैद होने के बाद पुलिस का कहना है कि इमामगंज के रानीगंज बाजार में कथित तौर पर नक्सली पर्चा पाया गया है. यह अफवाह बार-बार असामाजिक तत्वों द्वारा फैलाया जा रहा है. असामाजिक तत्व ऐसा बालू घाट की हुई नीलामी के कारण ऐसा कर रहे हैं. वहीं नक्सलियों का पर्चा मिलने से इलाके के लोगों में भय का माहौल कायम है.

आपको बता दे कि नक्सली संगठन भाकपा माओवादी ने आज और कल  बिहार बंद का एलान किया है. हालांकि इस बंद से दूध और एंबुलेंस सेवा को मुक्त रखा है. माओवादियों ने पोस्टर जारी कर कहा है कि आपरेशन ग्रीन हंट बंद करे साथ ही पुलिस निर्दोष लोगों पर जुल्म बंद करे.नक्सलियों द्वारा गया जिले के अति उग्रवाद प्रभावित इमामगंज थाना क्षेत्र के इमामगंज बाजार और रानीगंज बाजार सहित कई इलाकों में नक्सलियों ने पोस्टर साटा गया हैं. पोस्टर को रिजनल कमिटि एरिया कमांडर संदीपजी के नाम से जारी किया  गया है. पोस्टर के माध्यम से नक्सलियों ने ऑपरेशन ग्रीन हंट और पुलिसिया जुल्म के खिलाफ इस बंद में लोगो द्वारा समर्थन करने का आह्वान किया है. साथ ही नक्सलियों ने बालू ठेकेदारों का एक लिस्ट जारी करते हुए उन्हें 24 घंटे के अंदर कारोबार से अलग होने का कहा है। वहीं ऐसा नहीं करने पर संगठन द्वारा कार्रवाई करने की चेतावनी दी है.

(गया से जय प्रकाश की रिपोर्ट )

Find Us on Facebook

Trending News