नए साल में आठवीं तक के स्कूल खुलने की संभावना, बच्चों का पहले होगा कोरोना टेस्ट, तभी मिलेगा प्रवेश

नए साल में आठवीं तक के स्कूल खुलने की संभावना, बच्चों का पहले होगा कोरोना टेस्ट, तभी मिलेगा प्रवेश

पटना... बिहार के नवनियुक्त शिक्षा मंत्री ने अभी हाल में ही ये बयान दिया कि अभी प्राथमिक और मध्य विद्यालय नहीं खोले जाएंगे। बच्चों की जान से कोई समझौता नहीं करेगी राज्य सरकार। अब इस बीच खबर ये आ रही है कि स्कूल खोले जाने से पहले सभी बच्चों के काेरोना टेस्ट होंगे। टेस्ट के बाद जब जांच रिपोर्ट निगेटिव आएगी तब स्कूल जाने का मौका मिलेगा। इस दौरान अगर कोई कोरोना पॉजिटिव निकलता है तो उसे 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन करने के बाद ही स्कूल बुलाया जाएगा। ऐसे विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन ही पढ़ाई चलेगी।

इस बाबत सीबीएसई और सीआईएससीई स्कूलों को निर्देश भेज दिया गया है। ज्ञात हो कि अक्टूबर और नवंबर में मध्य प्रदेश, राजस्थान आदि कई राज्यों में स्कूल खोले गए। इस दौरान कई छात्रों के कोरोना पॉजिटिव निकलने से संबंधित स्कूल को पुन: बंद करना पड़ा। बिहार की बात करें तो अभी तक स्कूल खोले नहीं गए हैं। स्कूल खुलने से पहले कोरोना जांच करवाने की जिम्मेवारी संबंधित स्कूल प्रशासन को दी गई है।

कोरोना संक्रमण के कारण मार्च से अब तक लगातार स्कूल बंद हैं। अभी बोर्ड परीक्षा को लेकर नौवीं से 12वीं तक के स्कूल खोले गए हैं। आठवीं तक के स्कूल अब नए साल में ही खुलने की संभावना है। नए साल में स्कूल खुलने से पहले सभी स्कूलों में विद्यार्थियों की कोरोना जांच होगी। ज्ञात हो कि अभी सारी परीक्षाएं ऑनलाइन ही ली जा रही हैं। 15 दिसंबर तक परीक्षाएं होने के बाद क्रिसमस की छुट्टी होगी। 

इंडीपेंडेंस स्कूल एसोसिएशन बिहार के अध्यक्ष सीबी सिंह ने कहा कि कोरोना संक्रमण के प्रति सावधानी रखी जाएगी। स्कूल खुलने से पहले सभी बच्चों के सुरक्षित हाेने को कंफर्म किया जाएगा। ताकि बाकी बच्चे सुरक्षित रह सकें। 

Find Us on Facebook

Trending News