भारत में डीजल-पेट्रोल मंहगे होने से नेपाल से मंगाई जा रही है खेप, इलाके में बढ़ी तेल की तस्करी

भारत में डीजल-पेट्रोल मंहगे होने से नेपाल से मंगाई जा रही है खेप, इलाके में बढ़ी तेल की तस्करी

मोतिहारी। देश में पेट्रोल डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों से जहां लोग परेशान हैं, वहीं भारत नेपाल की सीमा पर रहनेवाले तेल के तस्करों के लिए यह फायदे का सौदा हो गया है। पिछले कुछ दिनों में यहां तेल की तस्करी के मामले मे वृद्धि हुई है। नेपाल पुलिस ने तेल की तस्करी में लगे तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इन लोगों के पास से नेपाली ऑयल टैंकर में लदे 1360 लीटर डीजल को बरामद किया है।

मिली जानकारी के मुताबिक, पर्सा जिला के जगन्नाथपुर से तस्करी का डीजल ले भारत जा रहे ऑयल टैंकर को रक्सौल आईसीपी जाने से पहले वीरगंज आईसीपी गेट पर हुई जांच में पकड़ा। इससे तस्करी का भंडाफोड़ हुआ। इसकी पुष्टि करते हुए वीरगंज ( डीएसपी सह पुलिस प्रवक्ता मनोजीत कुंवर ने भी है। उन्होंने बताया कि टैंकर के चैंबर से 1 हजार लीटर व टैंकर के फ्यूल टैंक से 360 लीटर यानी 1360 लीटर डीजल बरामद किया गया।

उन्होंने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि पर्सा जिला के जगन्नाथपुर स्थित श्वेता ऑयल ट्रेडर्स से डीजल लोड कर उक्त टैंकर तस्करी की नीयत से भारत जा रही है। जिसके बाद पुलिस टीम ने उसे वीरगंज आईसीपी के मेन गेट पर नियंत्रण में ले लिया व जांच की। साथ ही पूछ ताछ के बाद चालक राम कृष्ण उप्रेती ( मनहरी ,मकवानपुर) व खलासी अशोक पखरीन (राक्सिराज, मकवानपुर) को गिरफ्तार कर जांच शुरू की गई। इस तस्करी के खेल में मिलीभगत के आरोप में श्वेता ऑयल ट्रेडर्स के मुंशी शम्भू महतो (वीरगंज, वार्ड-22) को भी गिरफ्तार कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

दाम में लभगग 25 फीसदी का है अंतर

बताया गया है कि भारत की अपेक्षा नेपाल में पेट्रोलियम पदार्थ के मूल्य में भारी अंतर के कारण सीमा क्षेत्र में पेट्रोल-डीजल की तस्करी जोरों पर है। वीरगंज व रक्सौल के बीच डीजल की कीमत में 25.82 रुपया व पेट्रोल में 22 रुपये का अंतर है। रक्सौल में डीजल प्रति लीटर 84.70 रुपये व नेपाल में 58.88 रुपये (भारतीय रुपये) है। इसी प्रकार रक्सौल में प्रति लीटर पेट्रोल 91.51 रुपये व नेपाल में 69.50 रुपये में बिक रहा है। कोविड 19 के कारण नेपाल बॉर्डर पर कड़ाई के बाद भी यह गोरखधंधा तेज है। इसमें जुड़े लोग मोटी कमाई कर रहे हैं। वीरगंज डीएसपी की मानें तो उन्होंने बताया कि भारत की अपेक्षा नेपाल में पेट्रोलियम पदार्थ के मूल्य में अंतर व सस्ता होने से तस्करी हो रही है। वहीं,अवैध तस्करी में जुटे तस्कर सरकार को राजस्व का चूना भी लगा रहे हैं।

नेपाल जा रहे हैं तेल लेने

भारत में पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमत से बचने के लिए नेपाल बार्डर के पास रहनेवाले लोगों ने नया विकल्प खोज लिया है। अब यहां भारत में तेल लेने की जगह लोग नेपाल जा कर पेट्रोल की खरीदारी कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि नेपाल में जब कम पैसे में तेल में उपलब्ध है तो यहां अधिक कीमत क्यों चुकाएं



Find Us on Facebook

Trending News