सेवा शर्त की आस अगली कैबिनेट में हो सकती है पास, ड्राफ्ट तैयार कर कैबिनेट की मंजूरी के लिए भेजा गया

सेवा शर्त की आस अगली कैबिनेट में हो सकती है पास, ड्राफ्ट तैयार कर कैबिनेट की मंजूरी के लिए भेजा गया

patna :  करीब चार लाख नियोजित शिक्षकों की सेवा शर्त की आस अगली कैबिनेट से पास की जा सकती है।बताया जाता है कि कल यानी मंगलवार को कैबिनेट की बैठक हो सकती है। सूत्रों की माने तो वर्षों से लंबित सेवा शर्त का संशोधित ड्राफ्ट कैबिनेट की मंजूरी के लिए मंत्रिमंडलिय सचिवालय को भेज दिया गया है।मंत्रिमंडल से मंजूरी मिलते ही शिक्षा विभाग के द्वारा अधिसूचित कर दिया जाएगा। सीएम नीतीश कुमार ने 15 अगस्त को गांधी मैदान से सेवा शर्त को लेकर घोषणा भी कर चुके हैं। हालांकि ठीक 5 वर्ष पहले 11 अगस्त 2015 को ही सेवा शर्त को लेकर एक पत्र जारी किया गया था, लेकिन ऐसा लगता है कि अब नियोजित शिक्षकों का 5 वर्ष का इंतजार खत्म होने वाला है।


संशोधित सेवा शर्त का ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है, उसे मंत्रिमंडल सचिवालय को भेज दिया गया है। हालांकि इसके अंदर खाने में क्या है इस पर अभी कोई बोलने के लिए तैयार नहीं है। सेवा शर्त में संशोधन के लिए गठित कमेटी ने नियोजित शिक्षकों के पक्ष में क्या-क्या फैसले लिए हैं यह कैबिनेट से पास होने के बाद ही पता चलेगा।

लेकिन बताया जा रहा है की नियोजित शिक्षकों ऐच्छिक तबादले का अधिकार का रास्ता इससे वास्तव में खोल दिया गया है। इतना ही नहीं प्रोन्नति वगैरह का आधार भी तय किया गया है। लेकिन देखना होगा कि उसमें किस-किस तरह की शर्तें दी गई हैं.

Find Us on Facebook

Trending News