नीतीश कुमार की पुलिस ने तेजस्वी की महिला कंमाडर व उनके पति को बना दिया 'जेबकतरा', लगाया जेब से पैसे निकालने का आरोप

नीतीश कुमार की पुलिस ने तेजस्वी की महिला कंमाडर व उनके पति को बना दिया 'जेबकतरा', लगाया जेब से पैसे निकालने का आरोप

PATNA : एक दिन पहले तेजस्वी यादव प्रेस वार्ता में यह कहते हैं कि बिहार की पुलिस उनके पार्टी के लोगों को निशाना बना रही है। इसके कुछ घंटे बाद ही उनकी यह बात सही साबित हो जाती है। राजद की मुख्य प्रवक्ताओं में शामिल रितु जायसवाल व उनके पति के खिलाफ पुलिस जेब से पैसे निकालने के मामले में प्राथमिकी दर्ज किया है। आरोप है कि रितु जायसवाल व उनके पति अरुण कुमार चौधरी ने बीडीओ की जेब से जबरन दो हजार रुपए निकाल लिए और जान से मारने की धमकी दी। पुलिस के इस कृत्य की पूरी जानकारी राजद प्रवक्ता ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है। 

क्या है मामला

मामला सोनबरसा थाना से जुड़ा हुआ है। जहां के बीडीओ ओमप्रकाश ने यह आरोप लगाया है कि वह बीते 2 दिसंबर को ग्राम पंचायत सिंहबहौनी के जानकी नगर चौक पर मोटरसाइकिल की जांच कर रहे थे इसी दौरान एक बाइक सवार गाली गलौज करते हुए अपनी गाड़ी छोड़कर गांव की ओर भाग गया बाद में थानाध्यक्ष की मौजूदगी में मोटरसाइकिल की डिक्की को खोला गया तो उसमें सरपंच पद प्रत्याशी का एक पर्चा प्राप्त हुआ। जांच के क्रम में रितु जायसवाल के पति अरुण कुमार चौधरी जो कि खुद मुखिया पद की अभ्यर्थी थे। वहां पहुंच गए उन्होंने अपने समर्थकों को फोन कर बड़ी संख्या में चौक पर आने का निर्देश दिया। बीडीओ का आरोप है कि जब तक हम लोग स्थिति समझ पाते उन्होंने मेरा मोबाइल छीन लिया। थोड़ी देर में राजद की प्रवक्ता रितु जायसवाल भी लगभग 100 से 200 समर्थकों के साथ वहां पहुंच गई और सभी को घेर लिया इसी दौरान अरुण कुमार चौधरी मेरे करीब आए और मेरे पैकेट में ₹2000 निकालिए और मेरे साथ गाली गलौज किया। बीडीओ का आरोप है कि रितु जायसवाल ने मुझे धमकी दी कि वह तुरंत यहां से निकल जाएं अन्यथा जान से हाथ धोना पड़ जाएगा।

रितु जायसवाल ने खुद दी जानकारी

खुद के खिलाफ हुए दर्ज किए गए मामले को लेकर रितु जायसवाल ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें पूरी घटना साफ दिखाई दे रही है। इसके साथ ही रितु जाएसवाल ने दर्ज प्राथमिकी को लेकर बिहार पुलिस के काम पर भी सवाल उठाए हैं। उन्होंने लिखा कि  'मुख्यमंत्री जी के पुलिसिया तंत्र पर सवाल करोगे तो ये आप पर इतने केस करेंगे कि कंफ्यूज हो जाइएगा कि आप एक लोकतांत्रिक देश मे जीते हैं। पंचायत चुनाव के ठीक पहले इन्होंने मेरे पति और मुझ पर बीडीओ के जेब से 2000 रु निकालने का नॉन-बेलेबल फर्ज़ी केस किया है और कई अन्य धाराएं लगाई है।'


Find Us on Facebook

Trending News