नीतीश कुमार ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, आठवीं बार सीएम पद की शपथ लेकर रच दिया इतिहास, तेजस्वी को भी दिलाई गई शपथ

नीतीश कुमार ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, आठवीं बार सीएम पद की शपथ लेकर रच दिया इतिहास, तेजस्वी को भी दिलाई गई शपथ

पटना. नीतीश कुमार ने एक बार फिर से बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. इस बार उनके साथ के रूप में राजद के तेजस्वी यादव आ गए और उन्हें भी शपथ दिलाई गई. नीतीश कुमार ने अपने राजनीतिक जीवन में 8वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. उन्हें बिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. नीतीश के अलावा सिर्फ तेजस्वी यादव ने ही शपथ ली. कहा जा रहा है कि शेष मंत्रियों का शपथ अगले कुछ दिनों के बाद होगा. 

नीतीश कुमार ने आठवीं बार शपथ लेकर देश में इतिहास रच दिया है. वे देश के उन कुछ चुनिंदा नेताओं में शामिल हैं जिन्हें 8 बार सीएम पद की शपथ लेने का मौका मिला है. नीतीश कुमार ने पहली बार वर्ष 2000 में सीएम पद की शपथ ली थी. तब वे सिर्फ 7 दिनों के सीएम बने थे. 1985 में पहली बार विधायक चुने गए नीतीश कुमार आठवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बने हैं

नीतीश कुमार पहली बार 3 मार्च 2000 को बिहार के मुख्यमंत्री बने थे, लेकिन बहुमत नहीं होने के कारण उनको 7 दिन बाद ही 10 मार्च को इस्तीफा देना पड़ा 2005 में नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ चुनाव लड़ा और पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई. नीतीश कुमार दूसरी बार 24 नवंबर 2005 को बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और अपना कार्यकाल पूरा करते हुए 24 नवंबर 2010 तक सीएम रहे. बिहार की जनता ने 2010 के चुनाव में भी नीतीश कुमार पर भरोसा किया और उन्होंने तीसरी बार 26 नवंबर 2010 को बिहार की बागडोर संभाली. हालांकि 2014 में लोकसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन न कर पाने की वजह से 17 मई 2014 को नीतीश कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया और जेडीयू के जीतनराम मांझी को मुख्यमंत्री बनाया 22 फरवरी 2015 को नीतीश कुमार ने चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. वह 19 नवंबर 2015 तक अपने पद पर बने रहे.

2015 के चुनाव में बीजेपी से अलग होने के बाद नीतीश कुमार की पार्टी महागठबंधन का हिस्सा बनी और बहुमत हासिल किया. चुनाव में जीत के बाद 20 नवंबर 2015 को नीतीश ने पांचवी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली, लेकिन उन्होंने बीच में ही आरजेडी का साथ छोड़ दिया और 26 जुलाई 2017 को अपने पद से इस्तीफा दे दिया. आरजेडी से अलग होने के बाद नीतीश कुमार एक बार फिर बीजेपी के साथ आ गए. इसके बाद उन्होंने 27 जुलाई 2017 की छठी बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और कार्यकाल पूरा किया. 2020 के चुनाव में एनडीए को बहुमत मिली और नई सरकार के गठन से पहले नीतीश ने 13 नवंबर 2020 को राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया था, फिर नवंबर 2020 में सातवीं दफे मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। वहीं तेजस्वी यादव 2015 के बाद 2022 में दूसरी बार सरकार में मंत्री के रूप में शामिल हुए हैं. 



Find Us on Facebook

Trending News