विधानसभा स्पीकर और उपाध्यक्ष के लिए हुआ नामांकन, तेजस्वी के सबसे खास नेताओं को नीतीश ने दिया है मौका

विधानसभा स्पीकर और उपाध्यक्ष के लिए हुआ नामांकन, तेजस्वी के सबसे खास नेताओं को नीतीश ने दिया है मौका

पटना. बिहार विधानसभा के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए चुनाव 26 अगस्त को होगा. गुरुवार को विधानसभा में स्पीकर पद के लिए राजद के अवध बिहारी चौधरी ने नामांकन किया. साथ राजद के ही रामचंद्र पूर्वे ने विधाना परिषद में उप सभापति के लिए नामांकन किया. दोनों के नामांकन के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव सहित जदयू, राजद, कांग्रेस, हम और वाम दलों के कई नेता उपस्थित रहे. 

दोनों का निर्वाचन तय माना जा रहा है क्योंकि सत्ताधारी महागठबंधन कोविधानसभा में 164 सदस्यों का समर्थन प्राप्त है. माना जा रहा है कि विपक्षी दल भाजपा की ओर से किसी को उम्मीदवार नहीं बनाया जाएगा. इससे  अवध बिहारी का निर्विरोध निर्वाचन तय है. जदयू नेता श्रवण कुमार ने कहा कि दोनों के जीत में कोई परेशानी नहीं होगी. दोनों की जीत तय है. 


यह पहला मौका होगा जब गठबंधन की सरकार में राजद के हिस्से में विधानसभा का अध्यक्ष पद होगा. इसके पहले जब 2015 में नीतीश ने राजद के साथ सरकार बनाई थी तब जदयू के कोटे में अध्यक्ष पद गया था. हालांकि इस बार नीतीश कुमार ने जब राजद और अन्य दलों के साथ महागठबंधन के बैनर तले सरकार बनाई तो इस बार राजद को विधानसभा अध्यक्ष का अहम पद दिया है.

इसके पहले विधान परिषद के लिए बुधवार को ही जदयू के एमएलसी देवेश चंद्र ठाकुर ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया। नामांकन के दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राजद नेता राबड़ी देवी, उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव व अन्य महागठबंधन के नेता मौजूद रहे. सभापति के लिए सीतामढ़ी के रहने वाले विधान परिषद व जदयू के वरिष्ठ नेता देवेश चंद्र ठाकुर के प्रत्याशी बनाने की घोषणा पहले ही नीतीश कुमार की पार्टी ने कर दिया था.


Find Us on Facebook

Trending News