अब भागलपुर की बारी ! चार दिनों में दूसरी बड़ी वारदात, गोलियां बरसाते हुए एक और निर्मम हत्या, पुलिस से मांगी थी सुरक्षा

अब भागलपुर की बारी ! चार दिनों में दूसरी बड़ी वारदात, गोलियां बरसाते हुए एक और निर्मम हत्या, पुलिस से मांगी थी सुरक्षा

BHAGALPUR : भागलपुर में इन दिनों क्राइम का ग्राफ तेजी के साथ बढ़ रहा है। चार दिन पहले सिल्क व्यवसायी अफजल को गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतार दिया गया था। सोमवार को पुलिस ने जहां इस मामले का खुलासा किया तो वहीं शाम तलग एक और शख्स पर गोलियां बरसा उसे मौत की नींद सुला दिया गया। 

 मामला बबरगंज थानाक्षेत्र के कुतुबगंज रोड स्थित दीपक मेडिकल हाल के समीप का है। यहां अपराधियों ने स्थानीय प्लाटर अमरेंद्र कुमार सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या की वारदात को तब अंजाम दिया गया, जब वो घर के समीप दीपक मेडिकल हाल के पास खड़ा था। स्वजनों ने उन्हें खून से लथपथ हाल में जवाहरलाल नेहरू अस्पताल लाया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं मृतक के पुत्र मानस सिंह के मुताबिक, 'उमा यादव, अमर यादव, सचीत यादव ने मिलकर पिता पर गोलियां बरसाई हैं।

मानस ने पुलिस को बताया है कि कुतुबगंज निवासी करकु यादव ने हत्या करवाई है। बागबाड़ी इलाके का वह दबंग है। विश्वनाथ स्थान अलीगंज के समीप पांच कट्ठे का प्लाट था, जिसकी बिक्री अमरेंद्र कुमार सिंह कर चुके थे। उस बिक्री के एवज में प्रति कट्ठा पांच लाख रुपये की रंगदारी मांगी थी। पिता ने इंकार कर दिया था। करकु अपने भांजा अमर यादव समेत सचित और उमा यादव को लेकर मारने पहुंचा था। 

घटनास्थल पर और भी दो अपराधी थे जिनको मानस पहचान नहीं सका। गोली शरीर मे दो लगी है। गोली लगने के बाद जब अमरेंद्र गिर पड़े तो उन्हें सचित और उमा ने पत्थर भी चलाया।अमरेंद्र पर तीन बार जानलेवा हमला हो चुका था। दो माह पूर्व घर पर भी हमला हुआ था। पूर्व में बबरगंज और कचहरी परिसर में भी हमला हुआ था!

पुलिस के पास लगाई थी सुरक्षा की गुहार

वहीं यह जानकारी भी सामने आई है कि खुद पर हुए हमले के बाद उसने अपनी सुरक्षा के लिए गुहार लगाई थी। लेकिन पुलिस ने सुरक्षा मुहैया नहीं कराई, बल्कि जिसने उस पर गोली चलाई थी, उसे भी भी पकड़ने के कुछ समय ही छोड़ दिया। जिसके बाद बताया गया कि आरोपी ने धमकी दी थी कि एक माह के अंदर हत्या कर दी जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News