अब नदियों के रास्ते भी नहीं हो पाएगी शराब तस्करी, शराबबंदी कानून के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु गंगा में उतारा गया मोटरबोट

अब नदियों के रास्ते भी नहीं हो पाएगी शराब तस्करी, शराबबंदी कानून के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु गंगा में उतारा गया मोटरबोट

पटना. शराबबंदी कानून के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु जिला पदाधिकारी पटना डॉ चन्द्रशेखर सिंह द्वारा रविवार को जनार्दन घाट, दीघा, पटना में नया मोटरबोट का शुभारंभ किया गया। यह मोटर बोट एक स्पीड मोटर बोट है जो ड्रोन कैमरा, नाईट विजन, थर्मल विजन एवं जीपीएस सिस्टम से लैस है। मोटर बोट के छत पर एक लॉन्चिंग पैड है जहां से ड्रोन टेक-औफ एवं लैंड कर सकता है। जिलाधिकारी ने बताया कि इससे नदी-गश्ती एवं छापेमारी कार्य को कुशलतापूर्वक करने में सहायता मिलेगी। यह मोटर बोट नदी के सभी क्षेत्रों में पेट्रोलिंग करेगा एवं नदी मार्ग से अवैध शराब ले जाने वालों को पीछा कर पकड़ेगा।

डीएम डॉ सिंह ने कहा कि शराबबंदी की सफलता सुनिश्चित करने के लिए प्रवर्तन-तंत्र सुदृढ़ एवं सक्रिय है। बड़े पैमाने पर गंगा एवं सोन नदी सहित सभी नदी क्षेत्रों में पेट्रोलिंग कराई जाएगी। रात्रि में भी सघन नदी-गश्ती होगी। मद्यनिषेध, उत्पाद एवं निबंधन विभाग द्वारा 50 किमी की दूरी पर एक गश्तीदल लगाया है। यह गश्ती दल सड़क से लेकर नदियों तक शराब की तस्करी पर गहरी नजर रखेगा. 

उन्होंने कहा कि अवैध शराब निर्माण का पता ड्रोन से लगाया जा रहा है। सड़क से लेकर नदियों तक शराब तस्करी की ड्रोन से निगरानी हो रही है। डीएम डॉ सिंह ने सहायक उत्पाद आयुक्त को कार्य योजना के अनुसार पूर्ण मद्य-निषेध का क्रियान्वयन करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि शराब बंदी कानून को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए जिला प्रशासन प्रतिबद्ध है।


Find Us on Facebook

Trending News