अब PM मोदी से टकराए मांझी: फ़ोटो लगाने का इतना ही शौक है तो कोरोना डेथ सर्टिफिकेट पर भी लगाएं

अब PM मोदी से टकराए मांझी: फ़ोटो लगाने का इतना ही शौक है तो कोरोना डेथ सर्टिफिकेट पर भी लगाएं

PATNA: कोरोना महामारी के बीच बिहार में जहां वैक्सीन लेने के लिए होड़ मची हुई है, 18 वर्ष से ऊपर के उम्र के लोगों को वैक्सीन का स्लॉट नहीं मिल पा रहा है. वहीं अब इस वैक्सीन के साथ मिलने वाले सर्टिफिकेट को लेकर भी सियासत शुरू हो गई है. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कोरोना वैक्सीन के बाद दिए जाने वाले प्रमाण पत्र पर सवाल उठाए हैं. दरअसल उन्हें आपत्ति इस बात से है की प्रमाण पत्र पर सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर क्यों लगी है. बता दें, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के मुखिया ने रविवार को गया के महकार स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज ली थी. जिसके बाद उन्हें सर्टिफिकेट मिला और अब उस पर उन्होंने सवाल खड़ा कर उन्होनें इसे सियासी रंग दे दिया.

रविवार को वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद जीतन राम मांझी को वैक्सीनेशन का प्रमाण पत्र दिया गया, जिस पर पीएम की तस्वीर लगी थी. इसी तस्वीर पर जीतन राम मांझी ने ट्वीट कर आपत्ति जताई. मांझी ने सवाल खड़े करते हुए कहा कि को-वैक्सीन का दोनों डोज लेने के बाद मुझे प्रमाण पत्र दिया गया, जिसमें प्रधानमंत्री की तस्वीर लगी है. संवैधानिक संस्थाओं के सर्वे सर्वा राष्ट्रपति है. इस के नाते वहां राष्ट्रपति की तस्वीर लगनी चाहिए. साथ ही उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि अगर तस्वीर लगानी है तो स्थानीय मुख्यमंत्री की भी तस्वीर हो.


इसके अलावा उन्होंने सोमवार की सुबह एक और ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने सीधे तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा है कि अगर वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर तस्वीर लगाने का इतना ही शौक है, तो कोरोना से हो रही मृत्यु के डेथ सर्टिफिकेट पर भी उनकी तस्वीर लगाई जाए. यही न्याय संगत होगा.

Find Us on Facebook

Trending News