कोरोना से जंग: दानापुर से जमुई के लिये निकल गया मजदूरों का जत्था,न खाने का कोई सामान,न पीने को पानी,बस जीने को इच्छा

कोरोना से जंग: दानापुर से जमुई के लिये निकल गया मजदूरों का जत्था,न खाने का कोई सामान,न पीने को पानी,बस जीने को इच्छा

Patna : कोरोना वायरस ने इंसान को भयंकर खतरे में डाल रखा है। पूरा जनजीवन ठप हो गया है। आलम यह है कि जो अपने परिवार के साथ है उनके लिए कम से कम इतनी राहत तो है कि वे अपनों के बीच है। 

वहीं अपने परिवार के पालन पोषण के लिए घर परिवार से दूर निकले गरीब लोगों की जिंदगी तो भयंकर संकट में है। अब ये लोग किसी भी तरह अपनों के पास पहुंचने को बेचैन है और इसके कुछ भी कर रहे है। 

कल हमने आपको बताया था कि किस तरह राजस्थान से बिहार के 14 मजदूर पैदल ही चल परे है। अब एक और ऐसा ही मामला पटना से सामने आया है। 

दानापुर में मजदूरी करनेवालों एक जत्था दानापुर से पैदल चलते-चलते आज खुसरूपुर पहुंचा। न खाने के लिए कुछ, न मदद करने वाला कोई, पास है तो बस जीने की इच्छा। 

हमने यहा आपको दो तस्वीर दिखाई है। पहली तस्वीर उनकी है जो राजस्थान से बिहार के लिए निकले है। वहीं दूसरी तस्वीर पटना से जमुई के लिए निकले मजदूरों की है। 

जमुई जिले के रहने वाले ये मजदूर हैं लॉकडाउन के बाद जिस ठेकेदार के अंडर काम करते थे, उसने मुंह मोड़ लिया। अंत में इन लोगों ने रेलवे लाइन के सहारे जमुई जाने की ठानी आज ये लोग खुसरूपुर पहुंचे। खुशरूपुर में बेहाल देख कर कुक्कू फाउंडेशन के स्वयंसेवकों ने इन लोगों को खाने का कुछ सामान दिया। इन लोगों ने बताया कि कल सुबह फिर अपने गंतव्य की तरफ निकल जाएंगे।

Find Us on Facebook

Trending News