नालंदा में कार्यालय से गायब कर्मियों पर गिरी गाज, डीएम ने वेतन काटने का दिया आदेश

नालंदा में कार्यालय से गायब कर्मियों पर गिरी गाज, डीएम ने वेतन काटने का दिया आदेश

NALANDA : जिले में स्नातक और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिये मतदान होना है. जिसको लेकर प्रशासनिक सरगर्मी बढ़ गयी है. जिलाधिकारी सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी योगेंद्र सिंह ने विधान परिषद् चुनाव को लेकर बिहारशरीफ के प्रखंड कार्यालय के मतदान केंद्र का निरीक्षण किया. इस दौरान जिलाधिकारी ने मतदान केंद्र की व्यवस्था को बारीकी से देखा और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिया. 

इस मौके पर उन्होंने श्रम विभाग में सिर्फ आदेशपाल रहने पर अन्य कर्मियों का एक दिन का वेतन काटते हुए स्पष्टीकरण पूछा. उन्होंने बताया को चूंकि श्रम अधिकारी का दूसरे जगह भी पदस्थापन है. ऐसे में जिस दिन वे दूसरे जगह ड्यूटी करते है. उस दिन कर्मी भी लापता हो जाते है. जिलाधिकारी ने कहा कि शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए जिले में 20 मतदान केंद्र, जबकि स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 40 मतदान केंद्र बनाए गए है. 

पूरे जिले में सभी मतदान केंद्र का आज निरीक्षण किया गया है. जहां प्रखण्ड के वरीय अधिकारी के साथ साथ अनुमंडल पदाधिकारी व अन्य पदाधिकारी शामिल थे. चुनाव को लेकर किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. जो भी कर्मी इसके प्रति लापरवाह दिखेगा उनपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. 

जिलाधिकारी के निरीक्षण और कार्रवाई से प्रखण्ड कार्यालय स्थित अन्य कार्यालयों के कर्मियों के बीच हड़कंप मच गया. सूचना मिलते ही सभी कार्यालयों में कर्मी पहुँच गए. 

नालंदा से राज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News