विधायक जी! आप आदमी खाते हैं? बिहार विस परिसर में गाली-गलौच व अपशब्दों के प्रयोग पर BJP ने भाई वीरेन्द्र से पूछे सवाल

विधायक जी! आप आदमी खाते हैं? बिहार विस परिसर में गाली-गलौच व अपशब्दों के प्रयोग पर BJP ने भाई वीरेन्द्र से पूछे सवाल

PATNA:  बिहार विधानसभा परिसर में आज राजद विधायक भाई वीरेंद्र ने बीजेपी विधायक संजय सरावगी को अपशब्द बोले थे। संजय सरावगी के खिलाफ जातिसूचक घटिया शब्दों के साथ गाली- गलौज पर भाजपा ने भाई वीरेंद्र से पूछा है कि "क्या विधायक जी! आप आदमी खाते हैं?"

भाजपा ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री सह बिहार भाजपा प्रवक्ता डॉ० निखिल आनंद ने राजद विधायक भाई वीरेंद्र को लोकतांत्रिक संसदीय राजनीति में भाषा की मर्यादा का निम्नतम मानदंड स्थापित करने के लिए बहुत धन्यवाद और बधाई दी है। निखिल आनंद ने भाजपा विधायक श्री संजय सरावगी जी के खिलाफ भाई वीरेंद्र द्वारा जातिसूचक और घटिया शब्दों के साथ गाली- गलौज करने पर यह कटाक्ष करते हुए कहा कि अपने विधायक की इस घटिया हरकत और करतूत पर तेजस्वी यादव वाकई गर्व महसूस कर सकते है!

निखिल आनंद ने भाई वीरेंद्र को ससम्मान नसीहत देते हुए कहा है कि, "चार बार के विधायक भाई वीरेंद्र जी को समझना होगा कि कोई भी व्यक्ति विधायक बन जाने से शेर, बाघ या गुंडा नहीं हो जाता कि राह चलते किसी भी आदमी को जब चाहे ठिकाने लगाने, गाली गलौज करने और उसको मार डालने की खुल्लमखुल्ला धमकी देने लगे। क्या विधायक जी! आप आदमी खाते है? माननीय विधायक जी को जानना चाहिए कि समाज में कोई भी व्यक्ति बड़ा और छोटा हो सकता है लेकिन किसी को भी जातिगत आधार पर गाली देने का अधिकार नहीं है। संजय सरावगी जी एक विधायक के तौर पर उतना ही सम्मान और हैसियत रखते हैं जितना खुद भाई बिरेंद्र जी का है।" निखिल आनंद ने आगे कहा कि भाई वीरेंद्र की विधानसभा परिसर में की गई हरकत बहुत ही निंदनीय और शर्मनाक है जिसपर खुद माननीय विधायक ही नहीं बल्कि राजद के प्रदेश अध्यक्ष श्री जगदानंद सिंह और नेता विपक्ष तेजस्वी यादव को माफी माँगनी चाहिए, साथ ही राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव जी को भी गंभीरता से संज्ञान लेना चाहिए।

Find Us on Facebook

Trending News