पप्पू देव की मौत पर पप्पू यादव का बिहार पुलिस पर बड़ा आरोप, भाजपा विधायक ने बताया हत्या

पप्पू देव की मौत पर पप्पू यादव का बिहार पुलिस पर बड़ा आरोप, भाजपा विधायक ने बताया हत्या

सहरसा. पप्पू देव की मौत पर जन अधिकार पार्टी के सुप्रीमो पप्पू यादव ने बिहार पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाया है. उन्होंने कहा, बिना किसी वारंट के पप्पू देव को रात एक बजे पुलिस उठाती है और फिर हर्ट अटैक से उनकी मौत की बात करती है. वहीं पप्पू देव के शरीर पर चोट के गहरे निशान दिखे हैं जो कुछ और ही ईशारा करता है. 

पप्पू यादव रविवार देर रात पप्पू देव के परिजनों से मिलने सहरसा पहुंचे. उन्होंने पप्पू देव की मौत के बाद उठ रहे सवालों पर कहा कि जिस प्रकार से बिना किसी थाने में केस के और बिना वारंट के पुलिस रात में पप्पू देव को गिरफ्तार करने पहुंचती है. फिर जिस प्रकार की कहानी गढ़ी गई वह प्रायोजित मर्डर की ओर इशारा करता है. उन्होंने कहा कि विषय यह नहीं है कि पप्पू देव का इतिहास क्या रहा. अभी विषय यह है कि पप्पू देव की मौत कैसे हुई? पुलिस पर जो आरोप लग रहे हैं वह बेहद गंभीर है. 

उन्होंने कहा कि हाल फ़िलहाल पप्पू देव या उनकी पत्नी के एमएलसी चुनाव लड़ने की बात सुनी थी. अब जिस तरह से उनकी मौत हुई उसमें बड़ी साजिश से इनकार नहीं किया सकता. उन्होंने पप्पू देव के मौत की न्यायिक जाँच कराने की मांग की. राज्य सरकार से पुलिस की कार्यशैली पर उठे सवाल को साफ करने के लिए सवालों का जवाब देने की मांग की. 

पप्पू यादव ने एसआईटी जांच कराने और मोनिटरिंग हाई कोर्ट के न्यायाधीश से कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि इस साजिश का उजागर किया जाना बेहद जरूरी है और जो लोग भी इसमें शामिल हैं उन्हें सजा मिलनी चाहिए. डॉक्टरी रिपोर्ट में हर्ट अटैक होने की बात पर पप्पू यादव ने कहा कि कोई व्यक्ति किस परिस्थिति में अस्पताल पहुंचता है उस पर डॉक्टर की रिपोर्ट आती है. मूल विषय यह है कि पप्पू देव के शरीर पर चोट के निशान कैसे आए? 

गौरतलब है कि सहरसा पुलिस ने कहा था कि शनिवार रात पप्पू देव के समर्थक किसी जमीन पर अवैध कब्जा करने की कोशिश में गए थे. इसी दौरान पुलिस ने छापेमारी की और बाद में पप्पू देव को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने गोली चलने और हथियार बरामद होने की बात कही. बाद में पप्पू देव के हर्ट अटैक से मौत होने का दावा किया गया. वहीं सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीरों में पप्पू देव के शरीर पर चोट के कई निशान दिखे हैं. समर्थक इसे पुलिस की पिटाई से हुई मौत बता रहे हैं. भाजपा विधायक कुमार शैलेन्द्र ने भी पप्पू देव की मौत को हत्या बताकर सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया था. 


Find Us on Facebook

Trending News