बिहार के मठाधीशों को अखरने लगा था पप्पू यादव का काम, गिरफ्तारी के पीछे गंभीर साजिश तो नहीं?-संजीव

बिहार के मठाधीशों को अखरने लगा था पप्पू यादव का काम, गिरफ्तारी के पीछे गंभीर साजिश तो नहीं?-संजीव

PATNA: पूर्व सांसद पप्पू यादव को कोरोना काल में सरकार की पोल खोलना महंगा पड़ गया। मंगलवार को पुलिस ने उन्हें 32 साल पुराने मामले में पटना आवास से गिरफ्तार कर लिया। मधेपुरा कोर्ट ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर बिहार की राजनीति गरम है। विपक्ष में राजद को छोड़ बाकी दलों के अलावे सरकार की सहयोगी दो दलों ने भी पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर विरोध दर्ज किया है। जाप नेता और बिहार के जाने-माने बिल्डर और पैनोरमा ग्रुप के MD संजीव मिश्रा ने पप्पू यादव की गिरफ्तारी के पीछे बड़ी साजिश बताया है।

बिहार के मठाधीशों को अखरने लगा था पप्पू यादव का काम

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव को हिरासत में भेजे जाने के बाद कई संस्थाओं की तरफ से आवाज उठने लगी है. बिहार के जाने-माने बिल्डर और पैनोरमा ग्रुप के MD संजीव मिश्रा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि पप्पू यादव विपदा के समय दलगत राजनीति से ऊपर उठकर काम करते हैं .जब कोरोना में तमाम लोग घरों में कैद हो गए तब केवल पप्पू यादव ही लोगों के बीच मौजूद थे. यह बात पूरी तरह से बिहार के मठाधीश राजनीतिज्ञों को अखरने लगा था। इसी का खामियाजा पप्पू यादव आज उठा रहे हैं.

गंभीर साजिश तो नहीं?-संजीव

पैनोरमा ग्रुप के MD संजीव मिश्रा ने पप्पू यादव के खिलाफ साजिश होने का भी अंदेशा जताया है. उन्होंने कहा कि पप्पू यादव गिरफ्तार पटना से होते हैं और कभी उन्हें बीरपुर कभी दरभंगा शिफ्ट करने की बात की जाती है. पप्पू प्राथमिक जांच में कोरोना नेगेटिव पाए गए थे. संजीव मिश्रा के मुताबिक उन्हें इस बात का अंदेशा है कि पप्पू यादव के स्वास्थ्य को लेकर कोई गंभीर साजिश तो नहीं रखी जा रही है?

Find Us on Facebook

Trending News