पति ही निकला महिला का कातिल, कुल्हाड़ी से काटकर बेरहमी से की थी हत्या

पति ही निकला महिला का कातिल, कुल्हाड़ी से काटकर बेरहमी से की थी हत्या

Desk : महिला की हत्या के बाद मामले की जांच में जुटी पुलिस के उस वक्त यह जानकार दंग रह गई, जब उसे पता चला कि महिला का कातिल कोई और नहीं बल्कि उसका पति ही है। दरअसल उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले के नवाबगंज थाना क्षेत्र में रविवार रात एक महिला की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी गई थी। महिला की धारदार हथियार से काटकर बड़े ही बेरहमी से हत्या की गई थी। उसके सिर, चेहरे व गले पर हमले के निशान मिले थे। 

मिली जानकारी के अनुसार महिला का स्वयं सहायता समूह का संचालन करती थी। सुबह जब घर के लोग सोकर उठे तो देखा कि खून से लपपथ महिला की लाश विस्तर पर पड़ी है। जिसके बाद घरवालों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। 

सूचना मिलते ही पुलिस के अधिकारी गांव पहुंचे। पुलिस ने घरवालों से पूछताछ की है। पता चला कि महिला के पति का दो दिन पहले गांव के ही एक युवक से विवाद हुआ था। हत्या का शक उसी युवक पर जताया गया। हालांकि जांच में पता चला कि पति ने ही पत्नी की हत्या की है। पति को हिरासत में लिया गया है। कुल्हाड़ी भी बरामद हो गई है।

पूछताछ में पति शिवशंकर मौर्या ने बताया कि दो दिन पहले गांव के एक युवक से उसका विवाद हुआ था। युवक ने दो लाख रुपए लिया था, लेकिन दे नहीं रहा था। पति ने उसी पर शक जताया, लेकिन गांव एवं घर के अन्य लोग कुछ कहानी बयां कर रहे थे। पुलिस को भी पति की कहानी में झोल नजर आ रहा था। जब पुलिस ने पति के साथ कड़ाई की तो वह टूट गया और सच उगल दिया। 

एसपी क्राइम आशुतोष मिश्रा ने बताया कि सीमा के नाम पर पति ने एक महंगा मोबाइल किस्त पर लिया था। जिसकी किस्त वह नहीं दे रहा था। इसके लिए लोन देने वाली कंपनी से बार बार फोन आ रहा था। इसी बात को लेकर दोनों में झगड़ा होता था। शिवशंकर पत्नी सीमा पर लोन चुकाने के दबाव बनाता था और जान से मारने की धमकी देता था। रविवार रात में भी विवाद हुआ था। 

नवाबगंज कोतवाली अंतर्गत कौड़िहार पुलिस चौकी के पबनाह गांव निवासी 36 वर्षीय मृतिका आशा देवी मौर्या क्षेत्रीय महिलाओं की मदद के लिए समूह चलाती थी। वह जरूरतमंद महिलाओं की आर्थिक मदद करती थी। उसका पति शिवशंकर मौर्य ओला कंपनी में बुकिंग पर गाड़ी चलाता है। जिंदगी आराम से कट रही थी। रोज की तरह रविवार की रात में सभी लोग खाना खाकर सो गए। सुबह घरवाले जगे तो देखा कि आशा मौर्य का शव बिस्तर पर खून से सना पड़ा है। शोर शराबा हुआ तो गांव घर के लोग जमा हो गए। पुलिस को सूचना दी गई।

मौके पर इंस्पेक्टर नवाबगंज सुनील कुमार मौके पर पहुंचे। उसके बाद सीओ सोरांव और एसपी गंगापार भी पहुंच गए। फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड बुलाया गया। सीमा को धारदार हथियार से मारा गया था। कुछ देर बाद हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी बरामद कर ली गई।



Find Us on Facebook

Trending News