पटना नगर निगम के पास पहले से नहीं थी कोई तैयारी? अब आनन-फानन में PMC के जानकार पुराने अधिकारियों को बुलाया गया

पटना नगर निगम के पास पहले से नहीं थी कोई तैयारी? अब आनन-फानन में PMC के जानकार पुराने अधिकारियों को बुलाया गया

PATNA: पटना नगर निगम का भगवान ही मालिक है। जब पूरी राजधानी पानी में डूबी है तो अब जाकर सरकार की नींद खुली है। नगर विकास विभाग ने आनन फानन में पटना नगर निगम के पुराने जानकार अधिकारियों को पटना बुलाया है।

नगर विकास विभाग ने विभिन्न नगर निगम और नगर परिषद क्षेत्र में तैनात नगर प्रबंधक, अपर नगर आयुक्त को पटना नगर निगम में प्रतिनियुक्त किया है। पटना नगर निगम के पूर्व अपर नगर आयुक्त रहे विशाल आनंद समेत कुल 11 नगर प्रबंधकों को पटना नगर निगम में प्रतिनियुक्ति की गई है। उन्हें तत्काल पटना में योगदान का आदेश दिया गया है।

मुजफ्फरपुर के अपर नगर आयुक्त विशाल आनंद के अलावा नगर प्रबंधक ब्रजेश कुमार सिंह, कुमार गौतम, मनोज कुमार भारती, धीरज कुमार, रवि अमरनाथ, लालदेव यादव, मो. शफी अहमद, विनय रंजन और मो. आफताब आलम को पटना नगर निगम में प्रतिनियुक्त किया गया है। इस संबंध में नगर विकास एवं आवास विभाग ने अधिसूचना जारी कर दी है।

जानकार बताते हैं कि राजधानी डूबने की वजह नगर निगम के पास पहले से कोई तैयारी का नहीं होना सबसे बड़ा कारण है। नालों की अधूरी सफ़ाई के कारण ही संप तक तेज़ी से पानी नहीं पहुँच रहा है। पिछले एक वर्ष में नए अफ़सरों का पदस्थापना भी बड़ी वजह माना जा सकता है। इन्हें पानी निकलने की जानकारी ही नहीं है। अब जाकर पुराने जानकार अफ़सरों को  बुलाया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News