मंत्री जीवेश मिश्रा के घर रात के अंधेरे में पहुंचे पटना के DM और SP, गाड़ी रोके जाने को लेकर दी सफाई, मंत्री ने पूछा- उस समय कहां थे, तेवर अभी भी सख्त

मंत्री जीवेश मिश्रा के घर रात के अंधेरे में पहुंचे पटना के DM और SP, गाड़ी रोके जाने को लेकर दी सफाई, मंत्री ने पूछा- उस समय कहां थे, तेवर अभी भी सख्त

पटना. मंत्री जीवेश मिश्रा के घर पटना के डीएम और एसपी पहुंचे हैं. आज विधानसभा परिसर में मंत्री जीवेश मिश्रा की गाड़ी रोक दी गयी थी. इसके बाद मंत्री ने बवाल खड़ा कर दिया था. मंत्री ने पटना के डीएम और एसपी पर कार्रवाई को लेकर सदन में मांग उठायी थी. उन्होंने पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों पर मंत्री पद की बेइज्जती करने का आरोप लगया था. वहीं बढ़ते विवाद के चलते अब पटना के डीएम और एसपी मंत्री जीवेश मिश्रा के घर पहुंचे हैं. सूत्रों के अनुसार मंत्री के साथ मीटिंग के दौरान लगतार इस डीएम और एसपी गाड़ी रोके जाने पर सफाई पेश करते रहे. लेकिन मंत्री ने स्पष्ट ने कहा कि मेरी गाड़ी रोके जाने के बाद 6-7 गाड़ी जा चुकी थी, उसके बाद भी मंत्री को रोका गया. आखिर यह हिमाकत किसने की. उस दौरान आप कहा था. 

वीडियो फुटेज पर जांच की जा रही- DGP

बिहार में शीतकालीन सत्र चल रहा है. इसमें कोई न कोई विवाद देखा जा रहा है. नया विवाद बिहार सरकार के मंत्री जीवेश मिश्रा और पटना पुलिस-प्रशासन के बीच का है. इस मामले में डीजीपी संजीव कुमार सिंघल ने मीडिया से बात की. उन्होंने कहा कि वीडियो फुटेज देखा जा रहा है और जांच शुरू कर दी गई है. उसके बाद ही कुछ कहा जा सकता है. बता दें कि मंत्री जीवेश मिश्रा ने कहा कि पुलिस-प्रशासन ने मेरी गाड़ी को रोकर मंत्री पद की बेइज्जती की है.

वहीं जीवेश मिश्रा मामले में अपर मुख्य सचिव गृह चैतन्य  प्रसाद ने कहा कि ऐसा हो नहीं सकता कि कोई भी पुलिस-प्रशासन के पदाधिकारी माननीय मंत्री जी इज्जत ना करें, लेकिन कुछ दिक्कतें हुई हैं. इस पूरे मामले को देखा जा रहा है. जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.

डीएम-एसपी की वजह से हमारी गाड़ी को रोकी गई- मंत्री

बिहार विधानसभा में आज अजीब स्थिति उत्पन्न हो गई थी. सरकार के श्रम संसाधन मंत्री जीवेश कुमार ने प्रश्नकाल के दौरान सदन में उठकर कहा कि आज यह स्पष्ट होना चाहिए कि एसपी-डीएम बड़ा या सरकार बड़ी है. डीएम-एसपी की वजह से हमारी गाड़ी को रोक दी गई. आज सदन में सरकार क्लीयर करे. वहीं सदन में संसदीय कार्य मंत्री ने कहा कि मंत्री जी ने कहा कि विधानसभा परिसर में यह वाकया हुआ है. ऐसे में पूरा अधिकार विधानसभा अध्यक्ष का है. आसन जो निर्णय ले सरकार इस पर तैयार है.

डीएम-एसपी को सस्पेंड किया जाए- मंत्री

मंत्री जीवेश कुमार ने कहा कि आज जब हम सदन आ रहे थे. इसी दौरान उनकी गाड़ी को रोक दी गई. कहा गया कि एसपी-डीएम जा रहे हैं. इसलिए आप नहीं जा सकते. यह तो अजीब स्थिति है. वैसे डीएम-एसपी को तुरंत सस्पेंड किया जाना चाहिए. मंत्री के इस बात पर सदन में भारी हंगामा हुआ. विपक्ष पूरी तरह से मंत्री जीवेश मिश्रा के साथ खड़ा हो गया. अध्यक्ष विजय सिन्हा ने कहा कि विधायकों की प्रतिष्ठा सबसे बड़ी है. सरकार की तरफ से ससंदीय कार्य मंत्री सदन में जवाब देंगे.


Find Us on Facebook

Trending News