पार्षद को धमकाने पहुंचे अपराधी को लोगों ने पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, कोरोना टेस्ट को दौरान चकमा देकर हो गया फरार

पार्षद को धमकाने पहुंचे अपराधी को लोगों ने पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, कोरोना टेस्ट को दौरान चकमा देकर हो गया फरार

NAVGACHHIYA : नवगछिया के वार्ड नंबर 12 प्रोफेसर कॉलोनी मुमताज मुहल्ला ने वार्ड पार्षद प्रतिनिधि विनोद भगत के घर पर आ धमके अपराधी चंदन रजक को स्थानीय लोगों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया तो दूसरी तरफ कोरोना जांच करवाने के क्रम में अपराधी चंदन रजक पुलिस को चकमा दे कर फरार हो गया. नवगछिया के एसपी सुशांत कुमार सरोज ने घटना की पुष्टि करते हुए अपराधी को गिरफ्तार करने के लिए नवगछिया पुलिस को सघन छापेमारी करने का निर्देश दिया है तो दूसरी तरफ उन्होंने लापरवाह पुलिस कर्मियों के विरूद्ध कार्रवाई करने की बात भी कही है. इधर अपराधी चंदन के पुलिस हिरासत से भाग जाने के बाद प्रोफेसर कॉलोनी और मुमताज मुहल्ले के लोगों के बीच दहशत का माहौल है. 

मालूम हो कि चंदन कई बार जेल की हवा खा चुका है. हर बार जेल से निकलने के बाद वह फिर से उपद्रव करता है. नवगछिया नगर पंचायत वार्ड नंबर 12 के वार्ड पार्षद प्रतिनिधि विनोद भगत ने बताया कि दो दिन पहले चंदन रजक उसके घर पर हथियार लेकर आया था. घर का बेल बजा कर उसने कहा कि मुझे पचास हजार रूपये चाहिए नहीं दोगे तो विनोद भगत को जान मार देंगे. सोमवार को सुबह आठ बजकर तीस मिनट पर चंदन रजक हथियार के साथ दो अन्य लड़कों के साथ फिर घर पर आ धमका और हथियार सटा कर गाली गलौज कर रंगदारी की मांग करने लगा अन्यथा जान मारने की धमकी देने लगा. इसी बीच आस पास के स्थानीय लोग मौके पर आ गये. जिसे देख चंदन भगत अपने गिरोह के सदस्यों के साथ भागने लगा. लेकिन लोगों ने खदेड़ कर चंदन को दबोच लिया और लेकिन दो सहयोगी भागने में सफल रहे. इसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी.

पकड़ने की कोशिश नाकाम

 मौके पर पहुंची पुलिस ने चंदन को हिरासत में ले लिया. पुलिस स्तर से चंदन के हथियार को भी खोजने का प्रयास किया गया लेकिन चंदन ने भागने के क्रम में ही अपना हथियार अपने दो साथियों को दे दिया था. इधर नवगछिया पुलिस ने चंदन को थाना ला कर उससे सघन पूछ ताछ की और आवश्यक कार्रवाई कर उसे न्यायिक हिरासत में भेजने की तैयारी शुरू कर दी. इसी क्रम में चंदन का कोरोना जांच करवाने के लिए पुलिस अभिरक्षा में उसे अस्पताल के लिए रवाना किया गया. कोरोना जांच सेंटर से महज बीस फीट की दूरी पर चंदन पुलिस की गिरफ्त से छूट गया और पहले वह अस्पताल की मुख्य सड़क पर दौड़ता रहा फिर एक गली में घुस कर वह भाग गया. चंदन के भागने के बाद जवानों ने उसे धर दबोचने के लिए काफी प्रयास किया लेकिन वे लोग सफल नहीं हुए. 

पुलिसकर्मियों पर गिर सकती है गाज

फिलहाल नवगछिया थाने में चंदन के विरुद्ध वार्ड पार्षद विनोद भगत के लिखित बयान पर एक प्राथमिकी दर्ज की गयी है तो पुलिस हिरासत से भागने के मामले में दूसरी प्राथमिकी पुलिस स्तर से दर्ज की गयी है। मामले में जिस तरह से पुलिसकर्मियों की लापरवाही सामने आई है, उसको लेकर नवगछिया के एसपी सुशांत कुमार सरोज ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने  कहा हऐ कि फरार अपराधी चंंदन ज्यादा समय तक पुलिस की पकड़ से नहीं बच सकता है. पुलिस उसे जल्द से जल्द गिरफ्तार करेगी. दूसरी तरफ जिन पुलिस कर्मियों की लापरवाही से चंदन भाग गया, उनपर भी कार्रवाई की जायेगी


Find Us on Facebook

Trending News