पंचायत चुनाव करा रहे पीठासीन अधिकारी को लोगों ने दौड़ा-दौड़ा कर की पिटाई, मूकदर्शक बन देखते रहे रायफल लिए पुलिस अधिकारी

पंचायत चुनाव करा रहे पीठासीन अधिकारी को लोगों ने दौड़ा-दौड़ा कर की पिटाई, मूकदर्शक बन देखते रहे रायफल लिए पुलिस अधिकारी

GAYA : पंचायत चुनाव के चौथे चरण के मतदान के दौरान ग्रामीणों ने पीठासीन अधिकारी की जमकर धुनाई कर दी। बताया गया कि बुथ पर चुनाव प्रक्रिया धीमी गति से चल रही थी, जिससे लोग नाराज थे और उन्होंने अपना गुस्सा पीठासीन अधिकारी बने शिक्षक के ऊपर निकाल दी। दी। हैरानी की बात यह है कि राइफल बंदूक लिए खड़े पुलिस अधिकारी घटना के मूक दर्शक बने रहे। वहीं पीठासीन अधिकारी का आरोप है कि पुलिस ने ही उन्हें ग्रामीणों के सामने सुपूर्द किया, जिसके बाद यह घटना हुई है।

मामला गया के कोंच प्रखंड के अहियापुर गांव से जुड़ा है। यहां पीठासीन अधिकारी के रूप में शिक्षक कमलेश चौधरी को शांतिपूर्वक चुनाव संपन्न कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। कोंच प्रखंड व गुरुआ प्रखंड के सीमा पर बसे अहियापुर गांव में सुबह से लेकर दोपहर बाद तक मतदान सही तरीके से चल रहा था। मतदान की प्रक्रिया काफी धीमी होने की वजह से मतदाताओं के बीच रोष व्याप्त हो रहा था।

विपक्ष के समर्थन का लगा आरोप

बताया जा रहा है कि इसी बीच किसी मतदाता ने पीठासीन अधिकारी से मतदान से संबंधित सवाल पूछे तो पीठासीन अधिकारी ने कहा कि ईवीएम पर सभी प्रत्याशियों के चुनाव चिह्न लगे हैं, अपनी पसंद के अनुसार बटन दबाइए। यह बात मतदान केंद्र से बाहर आते-आते कुछ और हो गई और ग्रामीणों के बीच अफवाह फैल गई कि पीठासीन अधिकारी विपक्षियों के समर्थन में काम कर रहे हैं।


पुलिस ने अधिकारी को कर दिया भीड़ के सामने

इस पर वहां मौजूद पुलिस अधिकारी व पुलिस बल ने पीठासीन अधिकारी को ग्रामीणों के समक्ष अपनी बात रखने के प्रस्तुत कर दिया। जो एक बड़ी गलती साबित हुई। जैसे ही पीठासीन अधिकारी मतदान केंद्र से बाहर बरामदे में पहुंचे, ग्रामीण उन्हें खींच कर खुले मैदान में ले गए और जमकर उनकी धुनाई कर दी।

 मामला हाथ निकलते देख मौके पर मौजूद पुलिस बल ने वरीय अधिकारियों को घटना को सूचना दी। इस पर बड़ी संख्या में मौके पर चुनाव कार्य से जुड़े अधिकारी पहुंचे और पीठासीन अधिकारी से घटना की जानकारी ली। संबंधित मामले में पीठासीन अधिकारी ने लिखित शिकायत निर्वाचन आयोग से करने की बात कही है। हालांकि फिलहाल मामला शांत है।


Find Us on Facebook

Trending News