PM मोदी ने महागठबंधन को बताया महामिलावट, बोले- चौकीदार की चौकसी से भ्रष्टाचारी बौखलाए

PM मोदी ने महागठबंधन को बताया महामिलावट, बोले- चौकीदार की चौकसी से भ्रष्टाचारी बौखलाए

GUWAHATI : पूर्वोत्तर के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम और त्रिपुरा में जन सभा को संबोधित करते हुए लोकसभा चुनाव 2019 से पहले तैयार हो रहे महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी को गाली देने का आजकल कॉम्पटिशन चल रहा है, ओलिंपिक चल रहा है। यह महामिलावट (महागठबंधन) में यही काम चल रहा है। 

पीएम मोदी ने कहा कि महामिलावट के साथी, दलालों, बिचौलियों के सबसे बड़े संरक्षक रहे हैं। यह लोग सपना देख रहे हैं दिल्ली में एक मजबूर सरकार बन जाए। इनको मजबूत सरकार से दिक्कत हो रही है। मजबूत सरकार से ही देश आगे बढ़ सकता है। 

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा की, ये पूरा देश देख रहा है कि चौकीदार की चौकसी से कैसे भ्रष्टाचारी बौखलाए हुए हैं और सुबह-शाम मोदी-मोदी के नाम की रट लगाए हुए हैं। हमें खुशी होती अगर भूपेन दा जिंदा होते और अपने हाथ से भारत रत्न लेते, लेकिन वे नहीं हैं। इसके लिए जिम्मेदार कौन हैं, ये आप तय करें।  आज नॉर्थ ईस्ट के विकास में नया इतिहास जुड़ रहा है। 

मोदी ने कहा-इनसे (महागठबंधन) कोई पूछे कि किसानों के लिए क्या अजेंडा है, जैसे ही आप पूछोगे तो यह क्या करते हैं, वह मोदी को ढेरों गाली देंगे। अगर आप पूछेंगे कि मजदूर और श्रमिक के लिए क्या करेंगे तो और बड़ी गाली देंगे। युवाओं के भविष्य के पूछोगे तो उससे बड़ी गाली देंगे। इनके पास हर चीज का एक जवाब है कि मोदी को गाली दो।' 

अगरतला में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 62 हजार से ज्यादा ऐसे लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा था, जो लोग थे ही नहीं, जो कागज पर ही पैदा हुए, कागज पर ही बड़े हुए और कागज पर ही रुपये लेते गए। ये फर्जी लोग आपका पैसा लूटकर किसकी तिजोरी भर रहे थे, यह आप भलीभांति जानते हैं। इस तरह बीते साढ़े चार वर्षों से देशभर में ऐसा फर्जीवाड़ा करने वाले 8 करोड़ फर्जी लाभार्थियों को सिस्टम से हमने बाहर किया है। यह वे लोग थे जो दूसरे गरीब का राशन खा जाते थे, पेंशन खा जाते थे, स्कॉलरशिप हड़प जाते थे।


Find Us on Facebook

Trending News