पटना में बह रही जहरीली हवा, खतरनाक स्तर पर पहुंचा प्रदूषण

पटना में बह रही जहरीली हवा, खतरनाक स्तर पर पहुंचा प्रदूषण

 पटना. बिहार की राजधानी पटना की हवा बेहद जहरीली हो गई है. जहरीली हवा का आलम यह है कि पटना में हवा की गुणवत्ता दिल्ली सहित देश के कई अन्य बड़े शहरों से ज्यादा खराब रिकॉर्ड की जा रही है. न सिर्फ पटना बल्कि बिहार के कुछ शहरों का हाल भी बेहद बुरा है. पटना से भी ज्यादा खराब हवा मुजफ्फरपुर की है. पिछले एक सप्ताह के आंकड़ों पर गौर करें तो पटना और मुजफ्फरपुर में वायु प्रदूषण ने चिंता बढ़ा दी है. 

पटना का ऐक्यूआई लेवल रविवार को 304 तो सोमवार को 356 एक्यूआइ रहा. वहीं  मुजफ्फरपुर का प्रदूषण ग्राफ सोमवार को 352 एक्यूआइ पहुँच गया जबकि रविवार को यहाँ 333 एक्यूआइ था. प्रदूषण के मामले में कम प्रदूषित शहर माना जाने वाला गया भी पिछले  कुछ दिनों में लगातार प्रदूषण बढने से परेशान है. गया में सोमवार को 222 एक्यूआइ रहा जो रविवार को 230 था. 


पर्यावरणविदों की मानें तो जब हवा में एक्यूआइ स्तर 300 से ज्यादा हो जाता है तो यह साँस लेने के हिसाब से बेहद खतरनाक माना जाता है. ऐसे में पटना में पिछले दो दिनों से हवा में प्रदूषण का जो स्तर है वह जहरीली हवा की भांति है. प्रदूषण बढने से लोगों में सांस लेने में परेशानी की शिकायतें हो सकती हैं. खासकर सर्दी बढ़ने के कारण हवा ज्यादा खराब हो रही है और जहरीली हवा से आम लोगों को श्वसन सम्बन्धी परेशानी होने लगती है. ऐसी समस्या से बचाव के लिए मास्क का उपयोग फायदेमंद हो सकता है. 

विशेषज्ञों की की माने तो आने वाले एक सप्ताह में पटना सहित बिहार के अधिकांश शहरों का तापमान तेजी से कम होगा. इस स्थिति में अलाव आदि से उठने वाले धुंएँ और कोहरा बढने के कारण हवा की गुणवत्ता और ज्यादा खराब होगी. खासकर कोहरा बढ़ने के साथ ही हवा में धूल और धुआं का स्तर बढ़ेगा जो प्रदूषण को बढ़ाने का कारक बन सकता है. 

Find Us on Facebook

Trending News