छपरा जहरीली शराब कांड मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दर्जनों लोगों की मौत के कारणों पर बड़ा खुलासा

छपरा जहरीली शराब कांड मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दर्जनों लोगों की मौत के कारणों पर बड़ा खुलासा

पटना. छपरा जहरीली शराब कांड में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. ADG पुलिस मुख्यालय जितेन्द्र सिंह गंगवार ने सोमवार को कहा कि छपरा में जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. न सिर्फ मुख्य आरोपित को गिरफ्तार किया गया है बल्कि शराब बनाने के लिए किन रासायनिक तत्वों का प्रयोग हुआ था उस दिशा में भी पुलिस आगे बढ़ी है. उन्होंने कहा कि छपरा शराबकांड में मुख्य आरोपी अर्जुन को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने उसे 24 दिसंबर को गिरफ्तार किया है. 

उन्होंने कहा कि इस मामले में पुलिस शुरू से उन लोगों को गिरफ्तार कर रही है जो शराब निर्माण, आपूर्ति या अन्य प्रकार से संलिप्त रहे हैं. इसमें अब मुख्य आरोपी अर्जुन को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि छपरा जहरीली शराबकांड  में अर्जुन सहित कुल तीन मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इनकी पहचान अर्जुन सिंह, राजेश सिंह और शैलेंद्र राय के रूप में हुई है. वहीं पुलिस कार्रवाई में अब तक 14 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. शराब के निर्माण से लेकर दूसरे जगह पर पहुंचाने वाले कई अन्य लोगों को भी छपरा में पुलिस ने अलग अलग जगहों से गिरफ्तार किया है. 

उन्होंने दावा किया कि जहरीली शराब का निर्माण होमियोपैथिक दवा और अन्य केमिकल के जरिए बनाया गया था. साथ ही इसे चोरी छिपे लोगों को बेचा गया जिसे पीकर पहले कई लोग बीमार हुए और फिर उनकी जान गई. उन्होंने कहा कि 3 मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी के अलावा दो अन्य लोग फरार हैं जो इसमें मुख्य आरोपी हैं. उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है. 

छपरा जहरीली शराब कांड में 70 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी. इसे लेकर बिहार में शराबबंदी फिर से सवालों के घेरे में है. न सिर्फ छपरा बल्कि कई अन्य जिलों में भी इसी तरह कुछ लोगों की शराब पीकर मौत होने का मामला सामने आया था. इस पर राज्य की राजनीति भी गरमाई हुई है. भाजपा इस मामले में नीतीश सरकार पर हमलावर है जबकि महागठबंधन सरकार बैकफूट पर है. 


Find Us on Facebook

Trending News