पटना में मिनी गन फैक्ट्री का पुलिस ने किया उद्भेदन, हथियार बनाने के उपकरण के साथ चार को किया गिरफ्तार

पटना में मिनी गन फैक्ट्री का पुलिस ने किया उद्भेदन, हथियार बनाने के उपकरण के साथ चार को किया गिरफ्तार

PATNA : पटना के नौबतपुर में पुलिस ने गुरुवार को मिनी पिस्टन गन बनाने की फैक्ट्री का उद्भेदन किया है। इस मामले में पुलिस ने एक घर से गन बनाने की भारी मात्रा में औजार को जब्त किया है। पुलिस ने इस मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार लोग कई मामलों के आरोपी बताए जा रहे हैं। पुलिस उन लोगों का पता लगाने में जुट गई है। जिन लोगों ने इनसे मिनी गन और हथियार सप्लाई किया है।


बताते चलें कि नौबतपुर पुलिस को बुधवार को यह सूचना मिली थी कि शेखपुरा में अवैध हथियार बनाने की मिनी गन फैक्ट्री चल रही है। गुप्त सूचना के आधार पर नौबतपुर थाना प्रभारी, पिपरा थाना अध्यक्ष सहित पुलिस बल के साथ जब शेखपुरा गांव में छापेमारी की गई तो पुलिस ने वहां से 2 लोगों को सोनू कुमार एवं संजीत विश्वकर्मा को गिरफ्तार कर लिया। 

पुलिस ने जब इन लोगों से कड़ाई से पूछताछ की तो बताया गया कि राधेश्याम कुमार उर्फ धीरू यादव एवं संजीत कुमार उर्फ नितीश उर्फ मंत्री हथियार बनाने एवं मरम्मत करने का काम किया करते थे। पुलिस ने इन चारों को गिरफ्तार कर एक घर से बेस मशीन,हेक्सा ब्लेड फ्रेम, बैरल का खोखला रेड, गुना काटने वाला उपकरण,छोटा बड़ा रेती, छोटा बड़ा छेनी, हथौड़ी, चुम्मा, पेचकस, इलेक्ट्रिक कटर बरामद किया है। 

मामले की जानकारी देते हुए फुलवारी शरीफ पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी मनीष कुमार सिन्हा ने बताया कि गिरफ्तार लोग पूर्व में भी कई मामलों के वांछित रहे हैं और कई बार जेल भी जा चुके हैं। अब पुलिस उन लोगों का पता लगाने में जुट गई है जिन लोगों के द्वारा इनसे आर्म्स खरीदी गई है। पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी मनीष कुमार सिन्हा ने बताया कि यह सभी लोग देसी कट्टा एवं पिस्टन बनाने का काम किया करते थे और बाजार में इसकी सप्लाई 10,000 से 35000 के बीच करते थे। पुलिस का यह मानना है कि इस मामले में और भी कई लोग सनलिप्त हो सकते हैं। पुलिस उनका भी पता लगाने में जुट गई है।

Find Us on Facebook

Trending News