प्रशांत किशोर के इशारे पर बंगाल में तेजस्वी का बड़ा खेल.आज मिलेंगे राजद के दो बड़े नेता.पढ़िए पूरी खबर

प्रशांत किशोर के इशारे पर बंगाल में तेजस्वी का बड़ा खेल.आज मिलेंगे राजद के दो बड़े नेता.पढ़िए पूरी खबर

डेस्क... प्रशांत किशोर के इशारे पर आरजेडी के युवराज तेजस्वी यादव बंगाल में बड़ा खेल करने में जुट गए हैं.बंगाल में चुनाव को लेकर एक तरफ जहां बीजेपी लगातार नए नए सियासी दांव चलकर ममता को हैरान परेशान करने में जुटा है तो दूसरी तरफ टीएमसी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के चुनाव चुनावी रणनीति को संभाल रहे प्रशांत किशोर भी हर कीमत पर बीजेपी को बंगाल की चुनावी रणभूमि में मात देना चाहते हैं। इसी के तहत प्रशांत किशोर ने तेजस्वी यादव को बंगाल बुलाया है। आज तेजस्वी यादव के दो खास सिपहसलार प्रशांत किशोर से मुलाकात कर बंगाल की चुनावी रणनीति तय करेंगे। 

गौरतलब है की प्रशांत किशोर बंगाल में ममता बनर्जी के चुनावी रणनीतिकार है ।इससे पहले प्रशांत किशोर कभी बीजेपी के लिए काम कर पूरे देश में चुनावी रणनीतिकार के तौर पर पहचान बना चुके हैं। बीजेपी से बागी होने के बाद प्रशांत किशोर ने नीतीश की चुनावी रणनीति बनाई थी और उन्हें सत्ता में भी वापस लाने में अहम भूमिका अदा किया था। उस दौरान नीतीश कुमार का राजद के साथ गठबंधन था। लेकिन बाद में  गठबंधन टूटा और अपने ही दल के नेताओं के बागी तेवर की वजह से नीतीश ने प्रशांत किशोर को बाहर का रास्ता दिखा दिया।

प्रशांत किशोर हैं ममता के चुनावी रणनीतिकार फिलहाल प्रशांत किशोर ममता की चुनावी रणनीति तय कर उन्हें हर हाल में एक बार फिर से मुख्यमंत्री बनाने में जुटे हैं ।आने वाले चुनाव में प्रशांत किशोर बीजेपी को बंगाल की भूमि पर परास्त करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते ।प्रशांत किशोर ने ऐलान भी किया है कि बीजेपी बंगाल के चुनाव में डबल डिजिट में भी नहीं पहुंच पाएगी। जाहिर सी बात है कि प्रशांत किशोर चुनावी रणनीतिकार तो है हीं साथ उन्हें सामाजिक समीकरण और जातीय समीकरण की सूझबूझ भी काफी अच्छी है। यही वजह है कि उन्होंने राजद के युवराज को बंगाल आमंत्रित किया है ताकि ममता बनर्जी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़कर बीजेपी को हर कीमत पर शिकस्त दी जा सके।


अब्दुल बारी सिद्दीकी और श्याम रजक की आज होगी मुलाकात बंगाल में चुनावी गठबंधन को लेकर प्रशांत किशोर की बात तेजस्वी यादव से फुल एंड फाइनल मोड में है। बताया जा रहा है कि आज श्याम रजक और अब्दुल बारी सिद्धकी इसी सिलसिले में कोलकाता में प्रशांत किशोर से मिलेंगे। आज की मुलाकात के बाद चुनावी रणनीति तय होगी फिर कल हम मुलाकात टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी के साथ इन दोनों नेताओं की होनी है ।जाहिर सी बात है कि बंगाल में काफी बिहारी रहते हैं या यूं कहें कि बिहार से सटे इलाकों में माई समीकरण का काफी जबरदस्त प्रभाव है । कहा जा सकता है कि राष्ट्रीय जनता दल का जिस तरीके से मुसलमान वोटरों पर अच्छा खासा प्रभाव है उसी तरह बंगाल में ममता बनर्जी का भी मुसलमान वोटरों पर जबरदस्त पकड़ है ।लेकिन अगर तेजस्वी यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल का साथ ममता बनर्जी को मिल जाता है तो वह वोट बैंक और पक्का हो जाएगा ।साथ ही बिहारी वोटरों का एक वर्ग जो तेजस्वी के खेमे के है उसका भी साथ ममता को मिल जाएगा।

ममता बनर्जी से मुलाकात के बाद राष्ट्रीय जनता दल को मिलने वाली सीटों का भी फैसला हो जाएगा ।अब यह वक्त बताएगा कि ममता बनर्जी राष्ट्रीय जनता दल को कितनी सीटें देती हैं। लेकिन यह करीब-करीब तय हो चुका है कि अब तेजस्वी यादव पीके के इशारे पर ममता के साथ चुनाव लड़कर बंगाल में बड़ा सियासी खेल करने की तैयारी में लग चुके हैं।

Find Us on Facebook

Trending News