अमीन ने जमीन नापी कर घर बनाने का दिया आदेश, पुलिस ने काम बंद करने का जारी कर दिया फरमान

अमीन ने जमीन नापी कर घर बनाने का दिया आदेश, पुलिस ने काम बंद करने का जारी कर दिया फरमान

खगड़िया। बेलदौर सुमलेश कुमार सरकार के अधिनस्थ कार्य कर रहे बेलदौर थाना के पुलिस को बेलदौर सीओ के द्वारा जमीन नापी के लिए प्रतिनियुक्त किए गए सरकारी अमीन पर भरोसा नहीं है। पीड़ित खीरो यादव ने अपनी आप बीती सुनाते हुए कहा बेलदौर थाना अध्यक्ष शिव कुमार यादव के इशारे पर बेलदौर थाना के एक एसआई चंद रुपया के लालच में हमें टार्चर कर रहे हैं। हम मकान बनाते हैं तो वह गाली गलौज देकर कार्य को बंद करवा देते हैं कहते हैं काम बंद करो नहीं तो हम तुमको जेल भेज देंगे। 

प्रशासन के आदेश को नहीं मानती पुलिस

मामला बेलदौर प्रखंड अंतर्गत दिघौन पंचायत का है वही पीड़ित व्यक्ति के द्वारा बताया गया कि हमने बेलदौर सीओ के आदेश पर पुनः घर बनाना सुरु कर दिए की बेलदौर पुलिस ने काम रोकवाते हुए बोले की तुम अमीन और सीओ को पन्द्रह हजार रुपया घुस देकर नापी अपने पक्ष में करवाया है।दिघौन निवासी खिरो यादव और मनोज यादव बताया कि उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिले रुपया से अपना मकान अपनी जमीन में बना रहे थे।इसी बीच दर्जनों पुलिस बल आकर मकान हो रहे कार्य रोकवा दिया यह कहकर कि सरकारी अमीन एवं सीओ को तुम लोग ₹15000 पंद्रह हजार रिश्वत देकर कागज बना लिया है, इसलिए इस कागज का कोई वैल्यू नहीं है, मकान बनाना बंद करो नहीं तो सबको अंदर कर देंगे। 


खीरो यादव ने बताया कि बेलदौर सीओ अमित कुमार को हमने एक वर्ष पहले आवेदन देकर न्याय का गुहार लगाए थे कि हमारे ही गांव के दबंग प्रवृत्ति के लोग बिन्देसरी यादव,उन्ही का पुत्र सुबोध यादव, के द्वारा हमें घर नहीं बनाने दिया जाता है वह पंचों का बात भी नहीं मानते हैं। उन्होंने बताया कि सीओ बेलदौर ने सरकारी अमिन प्रितम कुमार और प्राइवेट अमीन इरफान अली को  बहाल कर  हमारे जमीन खाता संख्या 595 और खेसरा 762 नापी करवा कर चौहद्दी बना दिया। जिसका नापी वाद संख्या 02/2020/21  है। उस पर हमें घर बनाने का आदेश भी दे दिया गया है फिर भी पुलिस घर बनाने से मना करते हैं।  

दंबगों के दबाव में है पुलिस

दर्जनों ग्रामीणों से पूछने पर बताया कि इस मामले को कई बार पंचायत के द्वारा सुलझा लिया गया था लेकिन दूसरे पक्ष से बिंदेश्वरी यादव एवं उनके पुत्र सुबोध यादव फैसला नहीं मानते हैं, जो लगभग साल भर से मामले को उलझाया हुआ है इधर पीड़ित परिवार के सदस्य खीरो यादव मनोज यादव ,शंकर यादव ,शिवम यादव, सिकंदर यादव, प्रमोद यादव ,कैलाश यादव, हरि बोल यादव, ने रो-रोकर अपनी आपबीती दुखनामा सुनाया। खिरो यादव ने कहा इसकी शिकायत सभी परिवार खगड़िया एसपी से करने का मन बना रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News