खान सर के यू-ट्यूब पर वीडियो देखकर की तैयारी और अब मजदूर की बेटी पहनेगी दारोगा की वर्दी

खान सर के यू-ट्यूब पर वीडियो देखकर की तैयारी और अब मजदूर की बेटी पहनेगी दारोगा की वर्दी

AURANGABAD : बिहार के छात्रों के बीच खान सर किसी परिचय के मोहताज नहीं है। बिहार में उनके लाखों की संख्या में प्रशंसक है। जिस तरह से उन्होंने कोरोना काल में यू-ट्यूब के जरिए अभ्यर्थियों की कोचिंग क्लास करवाई, उससे वह न सिर्फ देशभर में लोकप्रिय हुए, बल्कि इसकी सहायता से कई अभ्यर्थियों को अपनी तैयारी करने का मौका मिला। इनमें से कई अभ्यर्थी ऐसे थे, जो कि कोचिंग की महंगी फीस देने में सक्षम नहीं थे। ऐसे ही एक अभ्यर्थी है औरंगाबाद की रहनेवाली शशि कुमारी।  जो खान सर के यू-ट्यूब वीडियो को देखकर अपनी परीक्षा की तैयारी की, बल्कि इस तैयारी के बदौलत आज बिहार पुलिस में दारोगा बनने में कामयाब हो गई है।

पिता करते हैं मजदूरी का काम

शशि कुमारी की सफलता इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि क्योंकि उसके पिता दशरथ बैठा मजदूरी का काम करते हैं। औरंगाबाद जिले के बारुण थाना के जनकोप गांव के रहनेवाले दशरथ खुद बेहद गरीबी में जीवन गुजार रहे थे। लेकिन उन्होंने अपनी बेटी को दारोगा बनाने का सपना देखा था और  उस ख्वाब को उनकी बेटी ने काफी कठिन संघर्षों के बाद पूरा किया है।उसकी सफलता से न सिर्फ ग्रामीण खुश है बल्कि उसके द्वारा किए गए मेहनत और परिश्रम की सराहना कर रहे हैं। वह न  सिर्फ अपने गांव के लिए ही नहीं पूरे प्रखंड के लिए एक मिसाल बन गई है।

शशि ने अपनी प्राथमिक शिक्षा गांव के ही सरकारी विद्यालय से  हाईस्कूल की शिक्षा औरंगाबाद शहर के कन्या उच्च विद्यालय एवं इंटर तथा स्नातक की शिक्षा किशोरी सिन्हा महिला कॉलेज से ग्रहण की।स्नातक करने के दौरान ही शशि ने अपने पिता के सपने को पूरा करने के लिए यूट्यूब का सहारा लिया और उसके माध्यम से दरोगा की प्रतियोगिता को कैसे क्रैक किया जाय उसे ढूंढने का प्रयास किया। अपनी सफलता का सारा श्रेय अपनी मां पिता को देते हुए शशि ने बताया कि मंजिल सही में उन्ही को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है।


Find Us on Facebook

Trending News