नवगछिया जेल में बंद कैदी की इलाज के दौरान मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

नवगछिया जेल में बंद कैदी की इलाज के दौरान मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

भागलपुर. नवगछिया जेल के एक कैदी की मौत का मामला सामने आया है। कैदी रोहित दास का पुत्र संतोष दास की इलाज के दौरान जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा अस्पताल मायागंज में मौत हो गई। सूचना पर पहुंचे परिवार के लोगों ने जेल प्रशासन पर लापरवाही बरतने और हत्या का आरोप लगाया है।

वहीं मृतक की पत्नी का कहना है कि जेल के अंदर मेरे पति को जहर की सुई देकर पुलिस वालों ने हत्या कर दी है। अब मैं किसके सहारे इन बच्चों को लेकर जिऊंगी।वहीं परिवार के लोगों ने जेल प्रशासन पर सूचना देर से देने की लापरवाही बरतने का भी आरोप लगाया है। मृतक बिहपुर थाना क्षेत्र के सोनबरसा का रहने वाला था और तीन माह पहले ही हत्याकांड के मामले में पुलिस ने गिरफ्तार कर उसे जेल भेजा था। अचानक जेल में उसकी तबीयत बिगड़ गई। इसके बाद जेल अधिकारियों के द्वारा उसे जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

वहीं मौत के बाद परिजन जेल में उसकी हत्या की बात कर रहे हैं। परिजनों का कहना है कि पिछले 15 दिन से वे लोग मृतक कैदी से मिलने जेल नहीं गए थे। वहीं परिजनों का आरोप है कि जब तबीयत खराब थी तो जेल प्रशासन ने परिजनों को इसकी सूचना क्यों नहीं दी। वहीं परिजन मौत को लेकर जांच की मांग कर रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News