हार्निया का इलाज कराने आई महिला की संदिग्ध मौत, परिजनों का आरोप गलत इंजेक्शन के कारण गई जान

हार्निया का इलाज कराने आई महिला की संदिग्ध मौत, परिजनों का आरोप गलत इंजेक्शन के कारण गई जान

खगड़िया। प्राइवेट क्लिनिक में इलाज के लिए भर्ती एक मरीज की मौत हो गई, जिसके बाद परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाकर जमकर हंगामा मचाया, परिजनों का कहना है कि मरीज को हार्निया के इलाज के लिए भर्ती किया गया था, लेकिन गलत इंजेक्शन लगाने के कारण उसकी हालत खराब हो गई और आखिरकार उसकी मौत हो गई। मृतक की पहचान बेगूसराय जिला के साहेबपुरकमाल निवासी सुचिता पासवान के रूप में की गई है।

मामले में बताया गया कि सुचिता पासवान को बीते 16 फरवरी को खगड़िया के श्याम लाल चंद्रशेखर नर्सिंग कॉलेज में हार्निया की शिकायत के बाद भर्ती कराया गया था। जहां जांच के बाद ऑपरेशन करने की बात डॉक्टरों ने परिजनों को कही थी। इसी दौरान बीते शुक्रवार शाम  को डॉक्टरों द्वारा उसे एक इंजेक्शन लगाया गया, जिसके बाद उसकी हालत और खराब हो गई। मरीज की खराब होती हालत को देखकर आनन फानन में उसे बेगूसराय रेफर कर दिया गया। जहां अस्पताल पहुंचते ही जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया गया। 

उसके बाद आनन फानन में उसे फिर से नर्सिंग कॉलेज में लाया गया। जहां परिजनों ने खुब हंगामा भी किया। साह ही साथ तोड़ फोड़ किया। अब परिजनों का कहना है कि इलाज के दौरान लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। परिजनों का आरोप है कि मरीज को गलत इंजेक्शन दिया गया, जिसके कारण मौत की यह घटना हुई है जहर का ही सुई दिया गया। जिसके वजह से सुचिता पासवान की मौत हुई है। वहीं नर्सिंग कॉलेज के डायरेक्टर विवेकानंद यादव ने कहा कि हमने जहर की सुई नहीं दिया है। बल्कि ऑपरेशन होने के दरम्यान में कई बार ऐसा होता है कि हर्ट अटैक भी आ जाता है, जिससे मौत भी हो सकती है। 

Find Us on Facebook

Trending News