सुपौल में 13 साल बाद भी नहीं बना बाढ़ में बहा पुल, दो भागों में बंटा पंचायत

सुपौल में 13 साल बाद भी नहीं बना बाढ़ में बहा पुल, दो भागों में बंटा पंचायत

SUPAUL : त्रिवेणीगंज प्रखण्ड क्षेत्र अन्तर्गत बरहकुरवा टेढ़ा नदी में ध्वस्त पुल 13 साल बाद भी नहीं बनने से पंचायत दो भागों में बँटा हुआ है। पूर्व मुखिया प्रत्याशी त्रिलोक कुमार ने बताया की 2008 में आई प्रलयंकारी बाढ़ में पुल पुरी तरह ध्वस्त हो गई थी। जिसको फिर से बनाने के लिए ग्रामीणों द्वारा कई बार प्रदर्शन भी किया जा चुका है। यहाँ तक की स्थानीय विधायक द्वारा भी पूर्व में हीं इसे अनुशंसित किया जा चुका है लेकिन विभाग की नजर अबतक इस ओर नहीं जाना बरहकुरवा वासियों के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। 

पूर्व उपमुखिया छोटेलाल यादव, पूर्व सरपंच राजेंद्र यादव, सुशील कुमार सुमन, किसान सलाहकार मनोज सरदार, गजेंद्र यादव, बेचन यादव, गुड्डू राजा, राजेंद्र सरदार, ब्रह्मदेव सरदार, सरफराज आलम, परवेज आलम, श्रवन यादव, संजय यादव आदि ने बताया कि नदी से पूरब वार्डों की संख्या 5 है जिसकी आबादी लगभग 6 हजार तथा नदी से पश्चिम वार्डों की संख्या 8 है जिसकी आबादी लगभग 9 हजार है।

 नदी से पूरब उच्च विद्यालय है।  जिसमें पश्चिम के बच्चे नहीं जा पाते, वहीं नदी से पश्चिम में पंचायत मुख्यालय, ग्राम कचहरी, पैक्स भवन, उर्दू उच्च विद्यालय अवस्थित है।  जिसमें ग्रामीणों को बार-बार जाना पड़ता है।  जिसकी दूरी 3 किलोमीटर है। लेकिन पुल टूट जाने के कारण लगभग 10 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है।

सुपौल से संवाददाता पप्पू आलम की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News