कृषि कानून का गुस्सा! पंजाब नगर निगम के सातों सीटों पर बीजेपी का सूपड़ा साफ

कृषि कानून का गुस्सा!  पंजाब नगर निगम के सातों सीटों पर बीजेपी का सूपड़ा साफ

DESK. कृषि कानूनों को लेकर तीन माह से चल रहे किसान आंदोलन का असर पंजाब के नगरीय निकाय चुनाव में देखने को मिला है। यहां बीजेपी को बड़ी हार का सामना करना पड़ा है। सबसे बड़ी बात यह है कि बीजेपी को यहां के सातों नगर निगम में हार का सामना करना पड़ा है। यहां कांग्रेस को बड़ी जीत हासिल हुई है।

 पंजाब की 109 नगर निकाय-नगर पंचायत और सात नगर निगम के लिए हुए मतदान की मतगणना जारी है. कांग्रेस ने पंजाब की सात नगर निगम चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का सूपड़ा साफ कर दिया. स्थानीय निकाय चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने मोगा, होशियारपुर, कपूरथला, अबोहर, पठानकोट, बटाला और बठिंडा नगर निगम जीत ली है. इनमें बठिंडा लोकसभा का प्रतिनिधित्व शिरोमणी अकाली दल की हरसिमरत बादल करती हैं. राज्य में केंद्र सरकार के कृषि कानून के खिलाफ किसानों के विरोध के बाद उन्होंने खुद को सरकार से अलग कर लिया था. जिसके बाद भाजपा को यहां से नुकसान उठान पड़ा है। 

इससे पहले 14 फरवरी को केंद्र के तीन कृषि कानूनों को लेकर राज्य में किसानों के प्रदर्शन के बीच हुए चुनाव में 71.39 फीसदी मतदान दर्ज किया गया. मंगलवार को कई बूथों पर दोबारा से चुनाव करवाया गया, इनके नतीजे भी आज ही जारी किए जाएंगे.

आंदोलन पर पड़ेगा प्रभाव

जिस तरह निकाय चुनाव में पंजाब के लोगों ने बीजेपी के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर की है, उसे केंद्र सरकार के लिए खतरे की घंटी मानी जा रही है। कहीं न कहीं इस चुनाव का असर किसान आंदोलन और आनेवाले बंगाल चुनाव पर भी देखने को मिलेगा।


Find Us on Facebook

Trending News