पूर्व विधायक राजन तिवारी ने चुनाव लड़ने के फैसले को लिया वापस, पश्चिमी चंपारण लोकसभा क्षेत्र से कर रहे थे चुनाव की तैयारी

पूर्व विधायक राजन तिवारी ने चुनाव लड़ने के फैसले को लिया वापस, पश्चिमी चंपारण लोकसभा क्षेत्र से कर रहे थे चुनाव की तैयारी

PATNA: पूर्व विधायक राजन तिवारी ने पश्चिमी चंपारण से चुनाव लड़ने के फैसले को वापस ले लिया है. नामांकन प्रक्रिया के दौरान ही राजन तिवारी ने आज इसका एलान कर दिया है. वे काफी समय से कोशिश में थे कि महागठबंधन उन्हें पश्चिमी चंपारण लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाए. लेकिन तमाम प्रयास के बाद भी वे टिकट हासिल करने में कामयाब नहीं हो सके. इसके बाद उन्होंने बेतिया से निर्दलीय चुनाव लड़ने का एलान कर दिया. इसके लिए उन्होंने तैयारी भी शुरू कर दी.

लेकिन अचानक उन्होंने अपना निर्णय बदल लिया और चुनाव लड़ने के अपने निर्णय को वापस ले लिया है. राजन तिवारी ने कहा है कि वे महागठबंधन के शीर्ष नेतृत्व के आदेश पर पिछले चार सालों से तैयारी कर रहा था. लेकिन टिकट नहीं दिया गया. इसके बाद वे क्षेत्र भ्रमण के बाद चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है. पूर्व विधायक राजन तिवारी ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है कि वे जल्द ही क्षेत्र के लोगों के मान-सम्मान और स्वाभिमान के हित में निर्णय लेकर एक बार फिर से आपके बीच आउंगा.

आपको बता दें कि महागठबंधन से टिकट नहीं मिलने पर खबर थी कि वे बसपा के टिकट पर पश्चिमी चंपारण लोकसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में उतरेंगे. इसको लेकर वे तैयारी भी कर रहे थे. लेकिन अब उन्होंने अपना निर्णय बदल लिया है. राजन तिवारी के निर्णय बदलने के बाद बीजेपी प्रत्याशी डा. संजय जायसवाल ने राहत की सांस ली है. क्योंकि राजन तिवारी अगर चुनाव लड़ते तो नुकसान बीजेपी के उम्मीदवार को ही उठाना पड़ता. 








Find Us on Facebook

Trending News