इस बार पुलिस की आंखों में ‘’धूल नहीं, मिर्ची झौंककर’’ फरार हो गए 16 बंदी, इस जगह का है मामला

इस बार पुलिस की आंखों में ‘’धूल नहीं, मिर्ची झौंककर’’ फरार हो गए 16 बंदी, इस जगह का है मामला

JODHPUR : पुलिस की चंगूल से जब भी कोई अपराधी भागता है तो कहा जाता है कि वह उसकी आंखों में धूल झौंककर फरार हो गया। राजस्थान के जोधपुर जिले के फलोदी जेल में ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां बंद 16 बंदी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए, अंतर बस इतना है कि यहां धूल की जगह पुलिसकर्मियों की आंखों में मिर्ची झौंकी गई थी। एक साथ इतने बंदियों के भागने की यह राजस्थान में पहली घटना बताई जा रही है। 

घटना के बाद जोधपुर पुलिस ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। रास्तों पर नाकेबंदी कर दी गई है। भागने वाले ज्यादातर बंदी नशे और तस्करी के मामले में बंद थे। फलोदी थाना प्रभारी राकेश ख्यालिया ने घटना की पुष्टि की है। वहीं जेल में अनियमितताएं मिलने पर DG जेल ने हाल ही में यहां के एक जेलर और दो डिप्टी जेलर को सस्पेंड कर दिया गया है।

सिर्फ चार लोग थे सुरक्षा में

घटना के वक्त फलोदी जेल में एक महिला मधु के अलावा तीन पुरुष गार्ड तैनात थे। 4 गार्ड छुट्‌टी पर थे। बताया गया कि बंदियों ने महिला सुरक्षाकर्मी की आंखों में मिर्ची झौंकी और उसके बाद वहां से फरार हो गए। उन्होंने जेल कर्मचारियों के साथ मारपीट भी की। भागने वाले बंदियों में से 3 बिहार के और बाकी फलोदी, बाप और लोहावट एरिया के हैं। बताया जा रहा है कि पहले बंदियों ने महिला प्रहरी पर सब्जी फेंकी। इससे वे गिरकर घायल हो गईं। 

जेल प्रशासन पर उठ रहे सवाल

अचानक इतनी बड़ी संख्या में कैदियों के भागने से जेल प्रशासन भी सवालों के घेरे में आ गया है। ज्यादातर कैदी NDPS एक्ट में बंद हैं। कुछ पर हत्या और हत्या की कोशिश के भी केस दर्ज हैं। SP जोधपुर ग्रामीण अनिल कयाल ने क्षेत्र के सभी थाना प्रभारियों को तलाशी अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं।


Find Us on Facebook

Trending News