पटना में वार्ड सचिवों पर लाठीचार्ज को राजू दानवीर ने बताया निंदनीय, कहा- क्‍या लोकतंत्र में अपना हक मांगना भी गुनाह है

पटना में वार्ड सचिवों पर लाठीचार्ज को राजू दानवीर ने बताया निंदनीय, कहा- क्‍या लोकतंत्र में अपना हक मांगना भी गुनाह है

पटना. बकाया वेतन और नौकरी स्थायी करने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे पंचायत वार्ड सचिवों पर लाठीचार्ज की घटना की जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के नेता राजू दानवीर ने कड़े शब्‍दों में निंदा की। उन्‍होंने कहा कि भारत लोकतांत्रिक देश है। लोकतंत्र में अपनी हक की मांग के लिए आवाज बुलंद करने का अधिकार सबको है। ऐसे में उनकी आवाज को दबाने के लिए लाठीचार्ज करना दुर्भाग्‍यपूर्ण है।

दानवीर ने कहा कि क्‍या बिहार में लोगों को अपनी आवाज सरकार तक पहुंचाने का कोई हक नहीं है? पंचायत वार्ड सचिवों बकाया वेतन और नौकरी स्थायी करने की मांग को लेकर बीते 15 दिनों से राजधानी पटना के गर्दनीबाग में धरने पर बैठे हैं। उनके पास खाने और ओढ़ने के लिए भोजन व कपड़े नहीं है। जब सरकार ने उनकी बात नहीं सुनी, तब वे रोड पर आए। प्रदेश में भाजपा-जदयू की सरकार है, तो वे अपनी बात उनतक पहुंचाने निकले थे, न कि किसी पार्टी के दफ्तर पर हमला करने। फिर भी उन पर ठंड में पुलिसिया दमन और वाटर कैनन चलाना गलत ही नहीं शर्मनाक है।

उन्‍होंने कहा कि जन अधिकार पार्टी पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध करती है। वार्ड सचिवों की मांग जायज है, इसलिए हम उनका समर्थन करते हैं। तभी जब जाप अध्‍यक्ष पप्‍पू यादव को इस घटना की जानकारी हुई, तो उनसे मिले और उनका हाल जाना। ठंड में ठिठुर रहे सचिवों के बीच कंबल का भी वितरण किया गया। वहीं, हमारी पार्टी ने वार्ड सचिवों की मांग को लेकर एनएच भी जाम किया, ताकि उनको उनका हक मिल सके। आगे भी जन अधिकार पार्टी वार्ड सचिवों की लड़ाई लड़ती रहेगी।


Find Us on Facebook

Trending News