इंग्लैंड से पति के साथ सुलतानगंज पहुँची रेबिका, कांवर लेकर रवाना हुई बाबाधाम

इंग्लैंड से पति के साथ सुलतानगंज पहुँची रेबिका, कांवर लेकर रवाना हुई बाबाधाम

BHAGALPUR : सुल्तानगंज से देवघर तक एक माह तक अनवरत चलने वाले कांवर यात्रा का गूंज देश मे ही नहीं बल्कि विदेशों में भी देखने को मिलता है। कांवर यात्रा मे शामिल होने के लिये विदेशी पर्यटकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। रविवार को इंग्लैंड से रेबिका पति के साथ सुलतानगंज पहुंची। गंगा घाट पर कांवारियों की भीड़ देख बोलबंम के नारे लगाने लगी। रुबिका ने बताया की वह पति के साथ भागलपुर पहुंची है। वहां से कांवर यात्रा मे शामिल होने के लिये सुलतानगंज आयी है। रेबिका पहली बार इंडिया आयी है। 


रेबिका की शादी भागलपुर मे हुई है। पति इंग्लैंड मे नौकरी करता है। रेबिका इंग्लैंड मे शिक्षिका की नौकरी करती है। रेबिका ने बताया कि दुनिया मे ऐसा मानव मेला कही नहीं देखा है। यहां सभी एक रंग में है। सभी का नाम और बोल भी एक है। उसने बताया की भारत में शिव का आराधना सदियों से होते  आ रहा है। उसने बताय की पहले वह केवल इस बात को सुनती थी। आज यह देखने को मिल गया है। 

रुबिका जब सुल्तानगंज पहुंची तो गंगा घाट का मनोरम दृश्य कर गदगद हो गई। भारतीय मूल के नागरिक से शादी होने के बाद कांवड़ यात्रा पर आने का सौभाग्य मिला है। बताया की पति को जिद कर कांवड़ यात्रा दिखाने के लिए लायी है। उसके बाद यहां जो दृश्य देखने को मिला। वह दुनिया में आज तक कहीं भी नहीं मिल पाया है। बाद में गंगा जल लेकर रेबिका पति के साथ बाबाधाम पैदल रवाना हुई। 

भागलपुर से बालमुकुन्द की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News