लौट रहा खोया विश्वास : पुलिस ने किया ऐसा काम कि दवा व्यवासायी ने कहा - THANK YOU

लौट रहा खोया विश्वास : पुलिस ने किया ऐसा काम कि दवा व्यवासायी ने कहा - THANK YOU

KATIHAR : थैंक्यू कटिहार पुलिस" ! पुलिसवालों के लिए यह शब्द सुने काफी समय गुजर गया है। लेकिन, कल तक अपराध के साए में जीने वाले कटिहार के प्रतिष्ठित दवा व्यवसाई राजेश जयसवाल आज कुछ इसी अंदाज में पुलिस का आभार जता रहे हैं। इसकी वजह है पुलिस ने उनके लिए वह काम किया है, जिसकी शायद लोगों ने उम्मीद भी करनी छोड़ दी है।

रंगदारी की मिली थी धमकी

 दरअसल पिछले आठ तारीख से लगातार उसे मोबाइल नंबर 9473170722 से उनका(राजेश)के मोबाइल नंबर 8540 951412  पर कॉल करते हुए रंगदारी मांगते हुए कहा जा रहा था "जल्दी से दो लाख रुपया दो नहीं तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहो", कटिहार नगर थाना क्षेत्र के वीर कुंवर सिंह चौक पर मेही मेडिकल चलाने वाले  राजेश जयसवाल लगातार इस कॉल से दहशत में जी रहे थे। अपराधियों ने कहा था कि अगर बात पुलिस तक पहुंची तो अंजाम और बुरा होगा।  लेकिन राजेश ने हिम्मत जुटाते हुए हैं कटिहार पुलिस पर भरोसा जताया और कटिहार पुलिस भी उनके भरोसे पर खरा उतरते हुए इस मामले में शामिल चार आरोपियों में से दो मुख्य आरोपी भोला पासवान और कुणाल पासवान को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इन दोनों के पास से दो मोबाइल भी जब्त किया है जिसमें से एक से रंगदारी मांगा जा रहा था।


पहले से दूसरे मामले में हैं आरोपी 

नगर थाना क्षेत्र के दुर्गा स्थान और राजेंद्र ग्राम के रहने वाले इन दोनों अपराधियों में भोला पासवान पहले से ही अपराध के दुनिया से जुड़े हुए रहे हैं और इन पर कुल पांच मामला जिसमें कटिहार नगर थाना में तीन और प्राणपुर थाना में दो मामला दर्ज है, घटना के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए हैं डीएसपी ओमप्रकाश ने बताया कि इस पूरे कहानी का मास्टरमाइंड भोला पासवान है जबकि कुणाल ने ही फोन करके रंगदारी मांगा था, रंगदारी नहीं देने पर दहशत बनाने के लिए घर पर गोली चलाने की धमकी भी अपराधियों के द्वारा  दिया गया था।

दूसरे के नाम पर ले रखी थी सिम

 पुलिस की माने तो जिस नंबर से कुणाल ने भोला के कहने पर फोन करके शहर के प्रसिद्ध दावा व्यवसाई राजेश से रंगदारी मांगता था वह मोबाइल नंबर 9473170722 इन दोनों में से किसी के नाम पर है ही नहीं, यानी यह सिम नंबर फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर निर्गत हुआ है। पुलिस इस बिंदु पर भी जांच करने की बात कह रहे हैं।

 कुल मिलाकर दवा व्यवसाई से रंगदारी मांगने के बाद कटिहार पुलिस ने जिस तरह से इस मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्परता से जांच करते हुए पूरे मामले का खुलासा किया है,उससे व्यवसायिक जगत के लोगों का कटिहार पुलिस पर भरोसा मजबूत हुआ है, जिसके लिए दवा व्यवसाई राजेश कटिहार पुलिस का शुक्रिया अदा कर रहे हैं लेकिन पुलिस को इस उपलब्धि पर संतुष्टि जताने के साथ-साथ ध्यान रखना पड़ेगा कि इस मामले में और जो दो अपराधी अब तक फरार है उनकी भी गिरफ्तारी जल्द से जल्द सुनिश्चित हो पाए।


Find Us on Facebook

Trending News