राजद ने साफ-साफ कह दिया - पीएम मटेरियल बनने से पहले योग्य सीएम बन जाएं नीतीश कुमार, वह कभी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते

राजद ने साफ-साफ कह दिया - पीएम मटेरियल बनने से पहले योग्य सीएम बन जाएं नीतीश कुमार, वह कभी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते

PATNA : जातीय जनगणना लालू प्रसाद ने बहुत पहले ही लोकसभा में उठाया था, उस समय बीजेपी ने भी साथ दिया था। तत्कालिक सरकार को सर्वसम्मति से प्रस्ताव भेजा गया था। लेकिन अब सरकार इस पर पीछे हट रही है। सिर्फ कुछ जातियों की जनगणना कराना चाहती है। यही कारण है कि आगामी सात अगस्त को मंडल कमीशन को लागू कराने के लिए प्रदेश व्यापी आंदोलन करने का निर्णय लिया गया है। 

सीएम के रूप में फेल हो चुके हैं, वह पीएम कैसे हो सकते हैं। जनता इस बात को समझ चुकी है। 43 सीट जीतने के बाद भी चोर दरवाजे से मुख्यमंत्री बने हैं, इसलिए कोई उन्हें पीए मटेरियल की बात कहता है, तो यह पूरी तरह से भ्रम में डालने की तरह है। वह पीएम मटेरियल के बिल्कुल योग्य नहीं हैं। 

अफसरशाही राज्य सरकार की पहचान

बिहार में अफसरशाही की बात को कबूल करते हुए कहा मनेर विधायक ने कहा कि यहां लोगों की शिकायतों की सुनवाई नहीं होती है। यह सिर्फ आईवाश है। क्योंकि सीएम भी वहीं है, अधिकारी भी वही हैं। ऐसे में लोगों की समस्या सुलझाने की बात पूरी तरह से बेमानी है। 

केंद्र और बिहार सरकार हिलने लगी है 

लालू प्रसाद की राजनीति में बढ़ती सक्रियता को लेकर भाई विरेंद्र ने कहा जैसे जैसे उनकी तबीयत में सुधार हो रहा है, केंद्र और राज्य सरकार की चिताएं बढ़ गई हैं। उन्होंने कहा है कि लालू प्रसाद ने तेजस्वी और चिराग को साथ आने की बात कही है। हमलोग भी चाहते हैं दोनों युवा साथ आएं और बिहार के लिए काम करें।

Find Us on Facebook

Trending News