पार्टी पदाधिकारियों के सामने एक दूसरे पर लात-घूंसे और कपड़े फाड़ने लगे राजद के नेता, वीडियो हुआ वायरल, जानें क्या है पूरा मामला

पार्टी पदाधिकारियों के सामने एक दूसरे पर लात-घूंसे और कपड़े फाड़ने लगे राजद के नेता, वीडियो हुआ वायरल, जानें क्या है पूरा मामला

ARA : राजद में जिला ईकाई के लिए चुनाव कराए जा रहे हैं। इसी सिलसिले में भोजपुर के जिलाध्यक्ष के लिए चुनाव होना है। लेकिन, जिलाध्यक्ष का चुनाव हो, इससे पहले ही आरजेडी का अंतर्कलह सबके सामने आ गया है। स्थिति यह हो गई कि चुनाव को लेकर बुलाई गई बैठक में ही दो गुटों के समर्थकों के बीच मारपीट शुरू हो गई और नेता एक दूसरे के कपड़े फाड़ने लगे। अब राजद नेताओं के बीच हुए इस मारपीट का वीडियो वायरल हो गया है और इसे खूब शेयर किया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार, आरजेडी जिलाध्यक्ष के चुनाव को लेकर शुक्रवार को आरा शहर से सटे धनुपरा स्थित रिसोर्ट में बैठक की गई थी। बैठक में आरजेडी अनुसूचित जाति जनजाति के प्रदेश अध्यक्ष सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी अनिल कुमार साधू और सहायक जिला निर्वाचन पदाधिकारी पूनम यादव सहित पार्टी के विधायक और नवनिर्वाचित प्रखंड अध्यक्ष सहित डेलिगेट मौजूद थे। लेकिन निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान ही भारी हंगामा हो गया। बताया गया कि आरजेडी का एक खेमा वर्तमान अध्यक्ष बीरबल यादव को अध्यक्ष बनाना चाह रहा था। हालांकि उनके पक्ष में प्रखंड अध्यक्षों का समर्थन कम था। कुछ लोग आदिव रिजवी के समर्थन में थे। इसी को लेकर विवाद शुरू हुआ। 

नोक-झोंक से मारपीट तक पहुंचा मामला

अनिल कुमार साधु की ओर से आरजेडी कार्यकर्ताओं और नेताओं के दो पक्षों में नोकझोंक व धक्का-मुक्की को देख जिलाध्यक्ष का फैसला सुरक्षित रखा गया। इस दौरान दो गुटों में बंटे समर्थकों के बीच मारपीट के बीच जिलाध्यक्ष के नाम पर मुहर नहीं लगी। जिसके बाद फाइनल मुहर के लिए मामला राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के पास पहुंच गया है।

पूर्व विधायक के दोनों बेटों ने की मारपीट

भोजपुर में आरजेडी जिलाध्यक्ष के चुनाव के दौरान हुए मारपीट का वीडियो तेजी से वायरल होने लगा है। जिसमें दो गुटों में जमकर मारपीट होते देखा जा रहा है। वीडियो में आरजेडी के पूर्व विधायक अरुण यादव के दोनों बेटे मुक्का चलाते दिख रहे हैं। साथ ही इस वीडियो में प्रखंड प्रमुख मुकेश यादव और नारायणपुर के मुखिया भूपेंद्र यादव भी दिख रहे हैं। वायरल वीडियो के मुताबिक, मारपीट मुखिया भूपेंद्र यादव, मुकेश यादव और पूर्व विधायक अरुण यादव के दोनों बेटों पप्पू यादव और दीपू यादव के बीच हुई है।

चाचा-भतीजे के बीच लड़ाई

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, भोजपुर में आरजेडी जिलाध्यक्ष के चुनाव पूर्व विधायक अरुण यादव के दोनों बेटे बैठक में शामिल होने गए थे और बीरबल यादव को चुनाव में जितवाना चाहते थे। लेकिन दोनों बेटे और चाचा में धक्का मुक्की शुरू हो गई। उसके बाद यह मामला लात घूंसों तक चला गया। और देखते ही देखते पूरा हॉल रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। लोग एक दूसरे पर लात और दूसरे से वार करने लगे। कभी एक दांत की रोटी खाने वाले चाचा और भतीजे भी एक दूसरे के खून के प्यासे हो गए। अपने प्रखंड प्रमुख और मुखिया चाचा को पीटने लगे। हालांकि कुछ लोगों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी

पूर्व विधायक के बहुत करीबी हुआ करते थे मुकेश यादव

कहा जाता है कि प्रखंड प्रमुख मुकेश यादव संदेश विधानसभा के पूर्व विधायक अरुण यादव के बहुत करीबी हुआ करते थे। एक दौर था जब मुकेश यादव ने अरुण यादव को पहली बार चुनाव लड़ने के दौरान मदद की थी। दूसरी तरफ भूपेंद्र यादव भी अरुण यादव के बहुत करीबी माने जाते रहे हैं। लेकिन समय के करवट बदलने के बाद आज दोनों के बीच काफी दुरिया बन गई है।

 इधर, चाचा-भतीजा का अब वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें भतीजा चाचा को मुक्का और लात मरते दिख रहा है। इसको लेकर पूरे जिले में चर्चाओं का बाजार गर्म है। हालांकि इस पूरे मामले पर आरजेडी का कोई भी नेता बोलने को तैयार नहीं है।


Find Us on Facebook

Trending News