राजद ने नीतीश सरकार के "मांझी" को दिया खुला ऑफर, महागठबंधन में आये और सपोर्ट करें

राजद ने नीतीश सरकार के "मांझी" को दिया खुला ऑफर, महागठबंधन में आये और सपोर्ट करें

PATNA : बिहार में एनडीए की सरकार है. इसमें भाजपा,जदयू,हम और वीआईपी शामिल है. लेकिन आए दिन बीजेपी और जेडीयू के बीच ही अंदर खाने में हाई वोल्टेज ड्रामा चल रहा है. इस मामले पर राजद के मुख्य प्रवक्ता भाई बिरेंद्र ने कहा कि राजनीति के तहत एक खेल हो रहा है. एनडीए में बात चली है कि सत्ता पक्ष का हम ही भूमिका निभाएंगे और विपक्ष का भी भूमिका हम ही निभाएंगे. विपक्ष को पूरी तरह गौण कर दें. लेकिन यह दोनों मलाई मार रहे और मलाई खा रहे हैं. लेकिन जनता के आंखों में केवल धूल झोंक रहे हैं कि हम लोग आपस में झगड़ रहे हैं. 

उन्होंने कहा की हम कहते हैं कि दोनों अलग अलग रहकर सरकार बनाएं. राजद राज्य सबसे बड़ी पार्टी है और इन लोगों ने पिछले दरवाजे से सरकार बनाया है. उन्होंने कहा की जो सरकार गलत ढंग से बनती है. वह ज्यादा दिन तक टिकाऊ नहीं होती है. नीतीश कुमार की पार्टी हो चाहे बीजेपी की पार्टी हो. एक दूसरे पर तंज कसते हैं. अगर हिम्मत है तो सरकार से हटे और हम सरकार बना लेंगे. 

उन्होंने कहा कि मांझी के बेटे को उपमुख्यमंत्री बना देना चाहिए था. नहीं बनाए हैं तो यह गलत है. निश्चित रूप से सरकार में उनका योगदान रहा है. हमको लगता है कि उनका वहां मन नहीं लग रहा है. उनके मन के लोग वहां पर  नहीं हैं. उनके मन के लोग महागठबंधन में हैं. हम चाहते हैं की वे गठबंधन में आये और उसे सपोर्ट करें. हरिवंश ठाकुर के बयान पर कहा की उनको इतिहास का ज्ञान नहीं है. देश जब गुलाम था. आजादी की लड़ाई लड़ने में हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई सब ने अपना जान की कुर्बानी दी थी. इसलिए मैं नीतीश कुमार से आग्रह करूंगा कि अगर कोईलवर में पागलखाने में जगह नहीं हो तो रांची में उनके लिए बात कर लिया जाए. ऐसे लोगों को समाज में या देश में देशद्रोही राजद्रोही को साबित करना चाहिए. 

पटना से वंदना शर्मा की रिपोर्ट 





Find Us on Facebook

Trending News