बिहार में हार के बाद राजद नेताओं को आई पार्टी सुप्रीमो की याद, कहा बाहर होते तो परिणाम कुछ और होता

बिहार में हार के बाद राजद नेताओं को आई पार्टी सुप्रीमो की याद, कहा बाहर होते तो परिणाम कुछ और होता

PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन और राजग के बीच कांटे की टक्कर रही. इस चुनाव में महागठबंधन के खाते में 110 सीटें आई है. हालाँकि तेजस्वी यादव ने इस चुनाव में कड़ी मेहनत की. इसके बावजूद इनकी पार्टी बिहार में सरकार नहीं बना सकी. अब पार्टी के हार जीत का मंथन करने के लिए राजद की ओर से कल बैठक आयोजित की गयी है. 

इस बैठक के पहले राजद नेताओं को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की याद आ रही हैं. अब्दुल बारी सिद्धकी के बाद पार्टी के वरीय नेता भोला प्रसाद यादव ने भी कहा कि लालू यादव जेल के बाहर होते चुनाव का परिणाम कुछ और होता. विधानसभा चुनाव में तेजस्वी यादव ने जी तोड़ मेहनत की. लेकिन लालू यादव होते तो राजद के पास दो- दो स्टार प्रचारक होते. 

उन्होंने कहा की कल की बैठक में सभी नेता अपनी अपनी बात रखेंगे. हारे हुए कई उम्मीदवारों की अलग अलग नाराजगी है. कुछ लोग भितरघात का भी आरोप लगा रहे हैं. वैसे सभी लोग कल तेजस्वी यादव के सामने अपनी बातों को रखेंगे. बताते चलें की भितरघात के आरोप में राजद के दरभंगा के जिलाध्यक्ष को पहले ही छः साल के लिए पार्टी से बाहर कर दिया गया है. उनपर केवटी से राजद के उम्मीदवार अब्दुलबारी सिद्दीकी के खिलाफ काम करने का आरोप है. जिसका एक ऑडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था. 


पटना से देबांशु प्रभात की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News