इफको कर्मी से 35 लाख रुपये की लूट का खुलासा : कर्मी ने ही गबन के लिए रचा लूट का षड्यंत्र, मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार

इफको कर्मी से 35 लाख रुपये की लूट का खुलासा : कर्मी ने ही गबन के लिए रचा लूट का षड्यंत्र, मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार

भागलपुर. पीरपैंती में दो दिन पूर्व इफको कर्मी से 35 लाख रुपये लूट की घटना का भागलपुर पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने घटना में शामिल तीन बदमाशों को भी गिरफ्तार किया है. मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी निताशा गुड़िया ने बताया है कि बीते 22 नवम्बर को पीरपैंती में इफको ई बाजार लिमिटेड के कर्मचारी कुंदन कुमार से निर्माणाधीन ओवरब्रिज के समीप उस वक्त बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया था, जब वह पीरपैंती बाजार स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखा में 35 लाख 51 हज़ार रुपये जमा करने जा रहा था. कर्मचारी ने घटना के आधे घंटे बाद इसकी जानकारी पीरपैंती थानाध्यक्ष संजय सत्यार्थी को दी और थानाध्यक्ष ने मौके पर पहुंच घटना की जांच की. इसमें प्रथम दृष्टया ही कर्मी के बयान में मामला झोल पाया गया.

मामले में भागलपुर एसएसपी का खुलासा

एसएसपी ने बताया है कि मामले में लूटी गई रकम की बरामदगी और इसके उद्भेदन के लिए कहलगांव एसडीपीओ शिवानन्द सिंह के नेतृत्व में एक टीम गठित कर अनुसंधान की शुरुआत की गई. गठित टीम द्वारा पाया गया कि घटना की सूचना देने वाला इफको के कर्मचारी कुंदन के बयान में विरोधाभाषी है और इसके द्वारा ही रुपये के गबन की मंशा से अपने ही साथियों के साथ मिलकर इसे लूट की घटना बताया जा रहा है, जिसे अनुसन्धान के तहत पूछताछ में सही पाया गया और इसी बिंदु पर पुलिस ने पड़ताल शुरू की और साक्ष्य मिलते ही कुंदन को हिरासत में ले लिया.

वहीं पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ में कुंदन ने बताया कि कम्पनी के जिस खाद को वह किसान के साथ बिक्री कर रहा था, उस रुपये को वह सरकारी खाते में न डाल निजी उपयोग में ला रहा था और जब यही रकम 40 लाख पहुंच गया तो उसने अपने साथियों के साथ रुपये के गबन को लेकर एक षड्यंत्र रचा और इसे लूट की कहानी में तब्दील कर दिया. पुलिस पूछताछ में कुंदन ने बताया कि उसके इस षड्यंत्र में उसके चार अन्य साथी की भी संलिप्तता है, जिसमें इशीपुर बाराहाट के पसाईचक गांव निवासी नीतेश कुमार यादव और पीरपैंती थानाक्षेत्र के सुंदरपुर गांव का बिनोद यादव भी शामिल है.

पुलिस ने कुंदन के निशानदेही पर दोनों अपराधियों को भी गिरफ्तार कर लिया है. इसके पास से पुलिस ने घटना में प्रयुक्त एक मोटरसाइकिल और 3 मोबाइल के साथ 5 लाख 60 हज़ार 4 सौ रुपये भी बरामद किए हैं. हालांकि इस दौरान बरामद रुपये में भी बड़ा झोल देखने को मिल रहा है. पुलिस के मुताबिक रवि के पास से बरामद रुपये की गड्डी में ऊपर और नीचे के सिरे में 2 हज़ार के कुछ नोट मिले हैं, जबकि गड्डी के अंदर कागज के टुकड़े बरामद हुए है. बड़ा सवाल है कि इफको के कर्मी कुंदन और नितेश द्वारा जिस रकम को लंबे समय से सरकारी खाते में ना डालकर निजी उपयोग में लाया जा रहा था. आखिरकार इफको के बड़े पदाधिकारी कहां सोए हुए थे. मामले में कार्रवाई के बाद इफको के अधिकारियों की नींद टूटी तो पुलिसिया कार्रवाई भी शुरू हो गयी. वहीं पुलिस ने तीनों आरोपितों के देर शाम न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. साथ ही अन्य दो आरोपियों की की तलाश की जा है.



Find Us on Facebook

Trending News