आंगनबाड़ी के बच्चों के लिए दिया जा रहा है सड़ा हुआ चावल, सेविकाओं के संघ ने लेने के किया इंकार, कहा - हम रिस्क क्यों लें

 आंगनबाड़ी के बच्चों के लिए दिया जा रहा है सड़ा हुआ चावल, सेविकाओं के संघ ने लेने के किया इंकार, कहा - हम रिस्क क्यों लें

SASARAM : चेनारी प्रखंड क्षेत्र के सेविकाओं के द्वारा चावल लेने से इंकार कर दिया गया. जिसके बाद सेविकाओं के द्वारा जमकर गोदाम के बाहर हंगामा मचाया गया बता देगी सेविकाओं का कहना है कि गोदाम प्रबंधक के द्वारा सड़ा हुआ चावल दिया जा रहा है, गोदाम प्रबंधक के द्वारा दबाव बनाया जा रहा है कि आप इसी चावल को लीजिए।

मामले मे सेविका संघ के प्रखंड अध्यक्ष मीना पांडे ने बताया कि सरकार से दी जाने वाली चावल सड़े होने के कारण सभी सेविकाओं के द्वारा उठाने से इंकार कर दिया गया है. अगर हम लोग चावल उठाते हैं और बच्चों को खाना बना कर देते हैं अगर कुछ होता है तो इसकी पूरी जवाबदेही हम सभी के ऊपर होती हैं। ऐसे में टी एच आर वितरण करते समय सभी लाभ लेने से इनकार कर दिए हैं।  सरकार के द्वारा बार-बार कहा जाता है कि बच्चों के लिए गर्म पक्का भोजन पौष्टिक आहार दिया जाना चाहिए ताकि बच्चों को शारीरिक एवं मानसिक विकास हो लेकिन गोदाम प्रबंधक के द्वारा सड़ा हुआ चावल दिया जा रहा है।


सीडीपीओ को दी गई जानकारी

 इसकी जानकारी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को दी गई तो बाल विकास परियोजना पदाधिकारी रूबी कुमारी ने बताया कि सेविकाओं के द्वारा चावल नहीं उठाओ का मामला संज्ञान में आया है। मैं वहां जाकर खुद इसका जांच करूंगी अगर सड़ा हुआ चावल होगा तो मैं इसकी शिकायत वरीए पदाधिकारी से करूंगी |

Find Us on Facebook

Trending News